नोकिया आयकर विवाद को सुलझाने के करीब पहुंची

टी ई नरसिम्हन | चेन्नई May 02, 2018 09:55 PM IST

नोकिया ने भारत सरकार के साथ अपना कर विवाद सुलझा लिया है। वह आयकर विभाग के कर दावे के लिए 24.14 करोड़ डॉलर का भुगतान करेगी। इस घटनाक्रम के बाद तमिलनाडु सरकार ने चेन्नई के निकट नोकिया के बंद संयंत्र को फिर से चालू करने के लिए ठेके पर इलेक्ट्रॉनिक उपकरण बनाने वाली ताइवानी कंपनी फोक्सकॉन से बातचीत शुरू की है।  ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट में कहा गया है कि इस करार के तहत नोकिया इस समय चल रहे कर विवाद को अदालत से बाहर निपटाने के लिए भारत सरकार को 24.14 करोड़ डॉलर का भुगतान करेगी। इससे पांच साल से चला आ रहा विवाद खत्म होगा। आयकर विभाग ने नोकिया से 60.23 करोड़ डॉलर के कर की मूल मांग की थी। 
 
अब आयकर विभाग अपनी मूल कर मांग को खारिज कर देगा। ब्लूमबर्ग टैक्स के मुताबिक भारत-फिनलैंड दोहरा कराधान निरोधक समझौते के तहत एकमुश्त निपटान भारतीय कर प्राधिकरण की पहले की प्रवृत्ति से बिल्कुल अलग है। पहले आयकर विभाग ने एल्फाबेट इंक की गूगल और वोडाफोन ग्रुप प्राइवेट लिमिटेड को बड़ी कर मांग के लिए वर्षों तक मुकदमेबाजी में घसीटा था।  नोकिया ने कहा है कि इस बारे में अभी कोई ताजा जानकारी उपलब्ध नहीं है। कंपनी ने 20 अप्रैल को कर मामले के बारे में कहा, 'हमें उम्मीद है कि हम इस मुद्दे को भारतीय प्राधिकरणों के साथ मिलकर जल्द सुलझा लेंगे।'
 
इस घटनाक्रम के बाद तमिलनाडुु सरकार ने संयंत्र को फिर से चालू करने के लिए फोक्सकॉन से संपर्क किया है। तमिलनाडु के उद्योग मंत्री एम सी संपत ने इस घटनाक्रम की पुष्टि करते हुए कहा कि वे संयंत्र को फिर से चालू करने के लिए फोक्सकॉन इंडिया और ताइवान में उनके मुख्यालय के संपर्क में हैं। उनके कार्यालय ने इसके लिए राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों को नियुक्त किया है।  राज्य में फोक्सकॉन का वर्तमान संयंत्र करीब 6,000 लोगों को रोजगार मुहैया कराता है। अगर नोकिया के संयंत्र को फिर से चालू किया जाता है तो इससे 25,000 से 30,000 अतिरिक्त लोगों को रोजगार मिलेगा। मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार सभी कदम उठाएगी और फोक्सकॉन को संयंत्र फिर से चालू करने में मदद देगी। 
 
फोक्सकॉन के राज्य में पहले से ही संयंत्र चल रहे हैं। इसने हाल में चीनी ब्रांड श्याओमी के लिए विनिर्माण इकाई स्थापित की है। अधिकारी ने कहा, 'फोक्सकॉन नोकिया संयंत्र को फिर से चालू करने में रुचि रखती है। यह उनके पड़ोस में है और वे पहले ही कई वैश्विक इलेक्ट्रॉनिक कंपनियों के उत्पादों का ठेके पर विनिर्माण कर रहे हैं। अगर वे फिर से संयंत्र को चालू कर पाए तो यह बहुत उपयुक्त होगा।' राज्य सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, 'इससे तमिलनाडु में रोजगार के मौके बढ़ेंगे। सरकार फोक्सकॉन को संयंत्र फिर से चालू करने में मदद देगी।'
 
नोकिया का संयंत्र 2014 में बंद हुआ था, जिससे 15,000 लोगों का प्रत्यक्ष रोजगार छिना था। पहले एचटीसी और एस्सार जैसी कंपनियों ने इस संयंत्र में रुचि दिखाई थी, लेकिन वे आगे नहीं बढ़ी। बिज़नेस स्टैंडर्ड की तरफ से फोक्सकॉन इंडिया के प्रमुख जोश फोल्गर को भेजे गए एक ईमेल का जवाब नहीं मिला। 
कीवर्ड nokia, income tax, CBDT, आयकर विभाग कराधान,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक