शेयरधारकों की मंजूरी का मुंजाल-बर्मन को भरोसा

सोहिनी दास | अहमदाबाद May 11, 2018 09:41 PM IST

फोर्टिस के निदेशक मंडल की तरफ से नकदी संकट का सामना कर रही स्वास्थ्यसेवा कंपनी के लिए उनकी पेशकश को सबसे ज्यादा उपयुक्त माने जाने के एक दिन बाद हीरो एंटरप्राइजेज के सुनील कांत मुंजाल और डाबर के आनंद व मोहित बर्मन काफी व्यस्त नजर आए। उन्होंने बड़े पोर्टफोलियो निवेशकों, कानूनी विशेषज्ञों से बातचीत की और वे फोर्टिस के लिए रणनीतिक योजना बना रहे हैं। मुंजाल ने कहा, फोर्टिस को पटरी पर लाने के लिए हम पहले ही योजना पर काम शुरू कर चुके हैं और योजना के तीन हिस्से हैं। पहला तात्कालिक है जो एक महीने के भीतर क्रियान्वित हो सकता है और दूसरा योजना तीन महीने की है, जो मध्यम अवधि में बढ़त आदि की चिंताओं का ख्याल रकेगा। आखिरी योजना लंबी अïवधि की है जो इस परिसंपत्ति को पटरी पर लाने से जुड़ी है। काम शुरू करने के लिए उन्हें भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग की और शेयरधारकों की मंजूरी की दरकार होगी।

 
मुंजाल और बर्मन को भरोसा है कि फोर्टिस के शेयरधारक बोर्ड के फैसले को खारिज नहीं करेंगे। मुंजाल ने कहा, शेयरधारक अपने निवेश की वैल्यू चाहते हैं। वे फोर्टिस की स्थिरता व बढ़त चाहते हैं। आखिर वे इस पेशकश को क्यों ठुकराएंगे? उन्होंने कहा, अगर मामला और छह महीने आगे बढ़ता है तो सबकुछ बर्बाद हो जाएगा और किसी को कुछ नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा, चूंकि फोर्टिस भारी नकदी संकट का सामना कर रही है, लिहाजा उनकी पेशकश ही ऐसी है जो अग्रिम लेकर आएगी। वास्तव में जब 30 दिन या ज्यादा अवधि में प्रक्रिया पूरी होगी तो रकम दो महीने के भीतर आ सकती है।
 
इस बीच, एसआरएल लॉजिस्टिक्स के विनिवेश के सवाल पर मुंजाल ने कहा कि इस पर फैसला अभी नहीं लिया गया है। उन्होंने स्पष्ट किया, डायग्नोटिक्स इकाई की बिक्री आरएचटी संपत्तियों के अधिग्रहण के लिए जरूरी नहीं है। उन्होंने कहा, फोर्टिस हॉस्पिटल और एसआरएल डायग्नोस्टिक्स काफी अहम परिसंपत्तियां हैं। हमें लगता है कि कारोबार के तौर पर फोर्टिस को ज्यादा ध्यान की दरकार है और एसआरएल के साथ भी ऐसा ही है। हमें देखना होगा कि क्या हमारे पास दोनों के लिए पर्याप्त आधार है। अगर ऐसा नहीं है तो फिर हमें ठीक तरीके से कारोबारी फैसले लेने होंगे और एसआरएल को बेचना होगा।
 
मुंजाल और बर्मन ने अभी तक जांच परख (ड्यू डिलिजेंस) नहीं किया है और दूसरी बोलीदाता के विपरीत इन्होंंने पिछले एक साल से फोर्टिस के प्रबंधन के साथ काम नहीं किया है। अब वे फोर्टिस के प्रबंधन के साथ बैठना चाहते हैं और कारोबार की गहन जानकारी लेना चाहते हैं। एसआरएल की बिक्री जैसे महत्वपूर्ण फैसले बाद में लिए जा सकते हैं। वे शुक्रवार को बड़े निवेशकों से बात की और मुंजाल ने दावा किया कि उन्हें उत्साहजनक प्रतिक्रिया मिली है। मुंजाल ने कहा, फोर्टिस ब्रांड के साथ हमारे जुड़ाव ने इसकी साख बढ़ा दी है। हीरो व डाबर सर्वोच्च स्तर के कॉरपोरेट गवर्र्नेंस के लिए जानी जाती है।
कीवर्ड fortis, hospital, health,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक