जेपी की जमीन पर बैंकों की याचिका एनसीएलएटी में

एजेंसियां |  May 24, 2018 09:48 PM IST

नैशनल कंपनी लॉ अपीलीय ट्रिब्यूनल (एनसीएलएटी) ने आज जेपी की जमीन मामले में नैशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) के आदेश के खिलाफ बैंकों की याचिका को स्वीकार कर लिया। एनसीएलटी ने अपने आदेश में जयप्रकाश एसोसिएट्स को करीब 760 एकड़ भूखंड अपनी सहायक इकाई जेपी इन्फ्राटेक को लौटाने का निर्देश दिया था जिसे बैंकों ने चुनौती दी है। एनसीएलएटी के चेयरमैन न्यायमूर्ति एसजे मुखोपाध्याय की अगुवाई वाले दो सदस्यीय पीठ ने तीन बैंकों- ऐक्सिस बैंक, स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक और आईसीआईसीआई बैंक की याचिका पर कंपनी के रिजॉल्यूशन प्रोफेशनल (आरपी) को नोटिस जारी किया है। पीठ मामले की अगली सुनवाई 13 जुलाई को करेगा। सुनवाई के दौरान अपीलीय ट्रिब्यूनल ने पाया कि एनसीएलटी के पास ऐसे किसी उत्पाद को गैरकानूनी घोषित करने का अधिकार नहीं है। एनसीएलएटी ने एनसीएलटी के इलाहाबाद पीठ के आदेश के खिलाफ की गई अपील याचिका पर सुनवाई के दौरान यह बात कही।
कीवर्ड NCLT, नैशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी),

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक