ऐप से हर तरह की सेवा मुहैया कराएगा फ्यूचर समूह

करण चौधरी और राघवेंद्र कामत | नई दिल्ली/मुंबई May 25, 2018 09:58 PM IST

किराना सामान की घर पर डिलिवरी और अन्य सेवाओं मसलन जिम की सदस्यता, स्पा के जरिए उपचार, एनबीएफसी के साथ गठजोड़ के जरिए कर्ज मुहैया कराना और मनोरंजन से जुड़ी सेवाएं किशोर बियाणी की अगुआई वाला फ्यूचर समूह अपने ऐप पर उपलब्ध कराएगा। यह समूह एक ऐसी व्यवस्था पर काम कर रहा है जहां सबकुछ एक ही जगह उपलब्ध होगा। कंपनी ने कृत्रिम बौद्धिकता व मशीन लर्निंग के लिए 100 करोड़ रुपये अलग रखे हैं और वह अमेरिका में डेटा एनालिटिक्स सेंटर स्थापित करने जा रही है। कंपनी की योजना छोटे फॉर्मेट वाले स्टोर की संख्या दोगुनी करने की है, जो ईजीडे, नीलगिरि व अन्य ब्रांड के तहत  परिचालित होते हैं। उसका इरादा ऐसे स्टोर की संख्या 2,000 करने का है यानी छोटे फॉर्मेट वाले स्टोर हर दो किलोमीटर पर उपलब्ध होंगे। एमेजॉन व फ्लिपकार्ट जैसी दिग्गज से मुकाबला करने के लिए फ्यूचर ग्रुप 999 रुपये में प्रीमियम सदस्यता कार्यक्रम पेश कर रहा है और उसे उम्मीद है कि वैल्यू ऐडेड सेवाओं के लिए ग्राहकों को आकर्षित कर पाएगा, जो कंपनी अपने छोटे फॉर्मेट वाले स्टोर के जरिए उपलब्ध कराने जा रही है। अगले 

 
15 महीने में कंपनी की योजना 1,000 छोटे स्टोर जोडऩे की है। समूह की योजना 40 बिग बाजार स्टोर और 60 ब्रांड फैक्टरी स्टोर खोलने की भी है। बियाणी ने कहा, हमारी योजना 2021-22 तक 1,000 अरब रुपये का राजस्व अर्जित करने की है। उन्होंने कहा, 2021 तक फ्यूचर कंज्यूमर सदस्यता योजना के जरिए 200 करोड़ रुपये कमाने का लक्ष्य रखा गया है। 2021 तक बिग बाजार के 450 स्टोर, छोटे फॉर्मेट वाले 8,000 स्टोर हो जाएंगे। ऐसे में अगर हमारा कारोबार 1,000 अरब रुपये से ज्यादा का होता है तो इसका 60 फीसदी छोटे फॉर्मेट स्टोर से और बाकी बिग बाजार के स्टोर से हासिल होगा।
 
कंपनी की योजना अपने ऐप पर कई सेवाएं मुहैया कराने की है, जिसमें जिम की सदस्यता, कर्ज उपलब्ध कराना और अपने प्लेटफॉर्म पर मनोरंजन सेवा मुहैया कराना शामिल है। इसकी योजना अपने ग्राहकों के लिए पूरी व्यवस्था करने की है ताकि वे हर सामान इस प्लेटफॉर्म पर खरीद सकें और फ्यूचर वॉलेट के जरिए इसका भुगतान कर सकें। कंपनी ने तकनीक पर निवेश के लिए 1 अरब रुपये अलग रखे हैं और इसके लिए बेंगलूरु में डेटा लैब सीऐंडडी स्थापित की है। बियाणी ने कहा, तकनीक पर करोड़ों डॉलर निवेश होने जा रहे हैं। यह प्रक्रिया जारी रहने वाली है। यह एक यात्रा है जहां हमें कभी भी तकनीक की किल्लत नहीं होगी। ऑनलाइन कंपनियां तकनीक के अलावा कुछ नहीं जानतीं, लेकिन हम दोनों चीज जानते हैं। लैब में इसके 100 से ज्यादा इंजीनियर हैं, लेकिन यह बे एरिया में डेटा लैब स्थापित करने जा रही है ताकि कंपनी कृत्रिम बौद्धिकता व मशीन लर्निंग आदि पर गहनता के साथ काम कर सके।
 
कंपनी का दावा है कि साल 2027 तक इसके छोटे फॉर्मेट वाले स्टोर की संख्या 9,000 होगी। फैशन पर तेजी का नजरिया रखने वाली कंपनी का मानना है कि इसके दो एकल फैशन रिटेल फॉर्मेट स्टोर सेंट्रल व ब्रांड फैक्टरी काफी बड़े हो रहे हैं। कंपनी ने कहा, बिक्री के लिहाज से इसका एफबीबी दुनिया में छठा सबसे बड़ा ब्रांड है।  ब्रांड फैक्टरी की योजना अगले चार से पंच सालों में 300 स्टोर तक पहुंचने की है। फ्यूचर एंटरप्राइजेज का एकल शुद्ध नुकसान मार्च तिमाही में बढ़कर 46.73 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। कंपनी ने पिछले साल की समान अवधि में 39.34 करोड़ रुपये का नुकसान दर्ज किया था। इसकी कुल आय तिमाही में 953.05 करोड़ रुपये रही।
कीवर्ड future group, FMCG, apps,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक