मनपसंद बेवरिजेज का शेयर 20 फीसदी टूटा

बीएस संवाददाता | मुंबई May 28, 2018 10:20 PM IST

ऑडिटर डेलॉयट हस्किंस ऐंड सेल्स के अचानक इस्तीफे के चलते मनपसंद बेवरिजेज का शेयर आज 20 फीसदी फिसल गया। गुजरात की फ्रूट जूस विनिर्माता ने रविवार को ऐलान किया ता कि डेलॉयट ने इस्तीफा दे दिया और कंपनी ने इसकी जगह मेहरा गोयल ऐंड कंपनी को नामित किया है। कंपनी ने इस्तीफे के कारणों का खुलासा नहीं किया। मनपसंद ने 30 मई को होने वाले बोर्ड बैठक भी टाल दी थी, जो वित्तीय नतीजे घोषित करने के लिए होनी थी। इस तरह से घटनाक्रमों की शृंखला से निवेशक परेशान हुए।

कोटक इंस्टिट्यूशनल इक्विटीज ने इस शेयर का कवरेज निलंबित कर दिया है और अंकेक्षक के इस्तीफे के बाद अपना नजरिया बदलकर सतर्कता भरा कर लिया है। कोटक के विश्लेषकों रोहित चोरडिया, जयकुमार दोशी और अनिकेत सेठी ने एक नोट में कहा है, कंपनी की रेटिंग को लेकर हम असहज हैं क्योंकि कंपनी की तरफ से ऑडिटर के इस्तीफे की वजह का खुलासा नहीं किया गया है। ब्रोकरेज ने कहा कि वह अपने रुख की समीक्षा तब करेगी जब कंपनी अपने सालाना नतीजे की घोषणा करेगी। 


जुलाई 2015 में सूचीबद्ध हुई मनपसंद बेवरिजेज का शेयर पिछले साल 60 फीसदी चढ़ा था और सोमवार को 20 फीसदी टूटने से पहले इस साल तीन फीसदी नीचे था। कंपनी ने एक बयान में कहा, वित्तीय नतीजे की घोषणा व डेलॉयट के इस्तीफे का समय महज संयोग है और इसमें कोई सीधा संबंध नहीं है। बोर्ड बैठक टाल दी गई और इसकी नई तारीख की घोषणा जल्द होगी। बयान में कहा गया है, यह अल्पावधि की व मामूली परेशानी है और लंबी अवधि में कारोबार पर इसका कोई असर नहीं होगा। मनपसंद ने हमेशा ही अपने कारोबार की सतत बढ़ोतरी को बनाए रखने पर ध्यान केंद्रित किया है। अपनी उच्च आकांक्षा को हासिल करने के लिए हम पटरी पर हैं और अभी इसमें लंबा समय लगेगा।
कीवर्ड ऑडिटर, डेलॉयट, हस्किंस ऐंड सेल्स, कोटक इंस्टिट्यूशनल इक्विटीज,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक