टाटा ग्लोबल: विदेशी बाजारों में फिसलन के बाद भारत पर जोर

विवेट सुजन पिंटो | मुंबई May 31, 2018 09:52 PM IST

विश्व की दूसरी सबसे बड़ी चाय कंपनी टाटा ग्लोबल अब वापस भारतीय बाजार पर ध्यान केंद्रित कर रही है। वैश्विक बाजारों से प्राप्त राजस्व में नरमी के बाद कंपनी ने यह पहल की है। विशेष तौर पर कंपनी के प्रमुख कारोबार ब्लैक टी श्रेणी में वैश्विक बाजारों से प्राप्त राजस्व में गिरावट दर्ज की गई है। कंपनी के कुल ब्रांडेड कारोबार में वैश्विक बाजारों का योगदान करीब 55 फीसदी है। वर्ष 2016-17 के लिए वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार, टाटा ग्लोबल के ब्रांडेड कारोबार में इस कंपनी का योगदान करीब 80 फीसदी है जबकि उसके बाद 19 फीसदी योगदान के साथ कॉफी और करीब 1 फीसदी योगदान के साथ पानी का स्थान है। वित्त वर्ष 2018 के लिए कंपनी ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट का अभी खुलासा नहीं किया है।
 
कुल मिलाकर इस ब्रांडेड कारोबार से टाट ग्लोबल को करीब 90 फीसदी समेकित राजस्व (2017-18 के लिए 68.15 अरब रुपये) प्राप्त होता है जबकि उसमें से 45 फीसदी राजस्व भारतीय बाजार से हासिल होता है। हालांकि इसमें अब तेजी आ सकती है क्योंकि कंपनी नवाचार, अधिग्रहण एवं नए उत्पादों के जरिये भारतीय बाजार पर कहीं अधिक ध्यान केंद्रित कर रही है। विश्लेषकों के अनुसार, टाटा समूह के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन घरेलू बाजार में अपनी ताकत का आक्रामक तरीके से इस्तेमाल करने की रणनीति बनाई है और यह बदलाव उसी का नतीजा है। पिछली कुछ तिमाहियों के दौरान भारत में कंपनी के ब्रांडेड कारोबार की वृद्धि 6 से 8 फीसदी की दायरे में रही। चाय श्रेणी में दमदार बिक्री से वृद्धि को बल मिला।
 
टाटा ग्लोबल के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्याधिकारी अजय मिश्रा ने कहा, 'हम भारत पर अधिक ध्यान दे रहे हैं। यह एक ऐसी जगह है जहां से हमें वृद्धि मिल रही है। यहां हमारा बिक्री एवं वितरण नेटवर्क जबरदस्त है और हमारा ब्रांड (टाटा टी) भी दमदार है जो ग्राहकों की पसंद और भरोसेमंद है।' हाल के महीनों में टाटा ग्लोबल ने चक्र गोल्ड (दक्षिण भारत में) ब्रांड के तहत कोकम और आंवला के साथ क्षेत्रीय चाय को बाजार में उतारा है। इसके अलावा कंपनी ने हाइब्रिड टी को भी बाजार में उतारा है जो एक क्षेत्रीय ब्रांड कानन देवन के तहत ग्रीन और ब्लैक टी का मेल है। जल श्रेणी में कंपनी ने हाल में हिमालयन ब्रांड के तहत फ्लेवर्ड वाटर (हिमालयन ऑर्चार्ड प्योर) उतारा है और वह जल्द ही टेटली ग्रीन टी एवं टीवेद (आयुर्वेदिक चाय) जैसे ब्रांड को उतारने वाली है।
कीवर्ड tata global, tea,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक