दवा कंपनियों के शेयरों को मजबूत खुराक

दीपक कोरगांवकर और पुनीत वाधवा | मुंबई/नई दिल्ली Jun 14, 2018 09:47 PM IST

दवा कंपनियों के शेयरों में बुधवार को छठे दिन भी तेजी का सिलसिला जारी रहा। निफ्टी-50 सूचकांक में 2.5 फीसदी की तेजी की तुलना में इस अवधि में निफ्टी फार्मा सूचकांक 10 प्रतिशत तक मजबूत हुआ है। विश्लेषक इस तेजी के लिए अमेरिकी दवा नियामक द्वारा की गई सकारात्मक कॉरपोरेट घोषणाओं को जिम्मेदार मान रहे हैं। इक्विनोमिक्स रिसर्च के संस्थापक एवं प्रबंध निदेशक जी चोकालिंगम का कहना है, 'नियामकीय समस्याओं को सुलझाए जाने, मिड- और स्मॉल-कैप में तेजी और निवेशकों द्वारा गिरावट के शिकार हुए शेयरों में दिलचस्पी लेने से पिछले कुछ सत्रों में दवा कंपनियों के शेयरों में खरीदारी बढ़ी है।'

 
जहां सन फार्मा (पिछले 6 सत्रों में 15 प्रतिशत की तेजी) ने हलोल संयंत्र में नियामकीय मंजूरी संबंधित समाधान की घोषणा की है, वहीं अरविंदो फार्मा को ओमेप्रोजोल के लिए यूएस एफडीए की मंजूरी मिलने से उसके शेयर में तेजी दिखी है।  इलारा कैपिटल के विश्लेषकों ने एक रिपोर्ट में कहा है, 'हलोल संयंत्र को मंजूरी मिलना सन के लिए एक सकारात्मक घटनाक्रम है, क्योंकि इस मंजूरी में पिछले तीन वर्षों से विलंब हो रहा था। के 139 एब्रिविएटेड न्यू ड्रग एप्लीकेशन (एएनडीए) लंबित हैं जिनमें हलोल संयंत्र का अहम योगदान है और कुछ बेहद सीमित प्रतिस्पर्धा वाले हो सकते हैं।' विश्लेषकों का मानना है कि सन फार्मा के शेयर में कई सकारात्मक बदलावों का असर दिखा है और हम इसके लिए 482 रुपये के कीमत लक्ष्य के साथ 'घटाएं' की रेटिंग पर कायम हैं। 
 
दूसरी तरफ रिलायंस सिक्योरिटीज का मानना है कि अरविंदो फार्मा का अमेरिकी व्यवसाय नई दवाओं की पेशकश (वित्त वर्ष 2019 में 30-40, जिनमें कुछ विशेष उत्पाद भी शामिल हैं) और इंजेक्टीबल्स व्यवसाय में सुधार की वजह से वित्त वर्ष 2018-20 के दौरान 11 प्रतिशत की सालाना चक्रवृद्घि दर दर्ज करेगा। इस शेयर के लिए 712 रुपये के कीमत लक्ष्य के साथ 'खरीदारी' रेटिंग दी गई है। डॉ. रेड्डïीज, ल्यूपिन, कैडिला हेल्थकेयर, वॉकहार्ट, अरविंदो फार्मा, ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन कंज्यूमर हेल्थकेयर और अजंता फार्मा ने 6 कारोबारी सत्रों में 9 से 15 प्रतिशत तेजी दर्ज की है।
कीवर्ड pharma, medicine, share,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक