बड़ी इकाइयों पर बिहार की टिकी नजर

सत्यव्रत मिश्रा | पटना Aug 24, 2017 10:23 PM IST

बिहार सरकार ने बड़ी विनिर्माण (मैन्युफैक्चरिंग) कंपनियों को निवेश के आमंत्रित किया है। इस दिशा में राज्य में इलेक्ट्रिक बस बनाने वाली एक कंपनी ने राज्य में अपनी इकाई लगाने में रुचि भी दिखलाई है। इसे राज्य सरकार ने रोहतास जिले बनने वाले नए औद्योगिक कॉरिडोर में जमीन देने का फैसला लिया है।
हालांकि, इस नए औद्योगिक पार्क में खास तौर पर छोटी सहयोगी इकाइयों को ही जमीन दी जाएगी। उद्योग विभाग के मुताबिक इसके लिए डेहरी ऑन सोन में हवाई पट्टी के पास जमीन चिह्निïत कर ली गई है। विभाग के प्रधान सचिव एस सिद्धार्थ ने बिजनेस स्टैंडर्ड को बताया, 'हम राज्य में बड़े उद्योगों पर भी पूरा ध्यान दे रहे हैं। हालांकि, उन्हें बुलाने के लिए पहले हमें छोटी सहयोगी इकाइयों को लाना होगा। इसी लिए हमने रोहतास जिले में करीब 80 एकड़ जमीन में एक नया औद्योगिक कॉरिडोर बनाने का फैसला लिया है। इसमें खास तौर पर छोटी और मझोली इकाइयों को जमीन दी जाएगी। हालांकि, एक विदेशी कंपनी ने राज्य में इलेक्ट्रिक बस बनाने की इकाई लगाने में रुचि दिखलाई है। चूंकि यह कंपनी पहले हमारे पास आई है, इसलिए हमने इसे भी इसी औद्योगिक प्रक्षेत्र में जमीन देने का फैसला लिया है।'
हालांकि, उद्योग सचिव ने कंपनी के नाम और निवेश के बारे में कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा, 'अभी उनकी तरफ से विस्तृत प्रस्ताव नहीं आया है। इसलिए हम इस बारे में कुछ भी बोल नहीं सकते हैं। हालांकि, हम इस बाबत लगातार उनके साथ संपर्क में हैं। जल्दी ही कुछ सकारात्मक बातें निकल कर आएगी। इसके अलावा, कई और निवेशकों ने राज्य में निवेश करने की इच्छा जताई है। उन्होंने भी राज्य निवेश प्रोत्साहन बोर्ड में इस बारे में आवेदन दिया है। अब तक हमें इस बारे में करीब 600 आवेदन मिल चुके हैं, जिसमें से करीब 400 को हरी झंडी दी जा चुकी है।'

कीवर्ड bihar, investment, industry,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक