2022 तक चल जाएगी बुलेट ट्रेन : गोयल

शाइन जैकब | नई दिल्ली Sep 11, 2017 09:30 PM IST

अहमदाबाद से मुंबई के बीच भारत की पहली बुलेट ट्रेन देश के 75वेंं स्वतंत्रता दिवस के वर्ष 2022 तक चलने की संभावना है। मीडिया से बातचीत में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने आज कहा कि परियोजना पूरी करने के लिए इसके पहले नियत तिथि दिसंबर 2023 के बहुत पहले इसका काम 2022 तक पूरा कर लिया जाएगा। इस परियोजना के लिए जापान से 88,000 करोड़ रुपये दीर्घकालीन सस्ता ऋण मिला है, जिसका शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे सितंबर में करेंगे।
कर्ज की 6,000 करोड़ रुपये की पहली किस्त तत्काल जारी होगी, जबकि शेष राशि भूमि अधिग्रहण का काम पूरा होने के बाद मिलेगी। जापान यह कर्ज 0.1 प्रतिशत ब्याज पर मुहैया करा रहा है, जिसका भुगतान 15 साल बाद शुरू होगा। इस पूरे कर्ज पर ब्याज सिर्फ 7-8 करोड़ रुपये प्रति महीने देना होगा।
इस मामले से जुड़े एक अधिकारी ने कहा, '6,000 करोड़ रुपये के शुरुआती कर्ज का इस्तेमाल मुख्य रूप से द्रुतगामी रेल प्रशिक्षण संस्थान और साबरमती स्टेशन के निर्माण के लिए होगा। हमें विश्वास है कि एक साल के भीतर 825 हेक्येयर जमीन का अधिग्रहण हो जाएगा।'
उम्मीद है कि इस मार्ग पर शुरुआत में प्रतिदिन 35 रेलगाडिय़ां चलेंगी, जिनकी संख्या 2050 तक बढ़कर 105 हो जाएगी। इस मार्ग पर 320 से 350 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से रेल दौड़ेगी, जिस पर 12 स्टेशन बांद्रा कुर्ला कांप्लेक्स, थाणे, विरार, बोइसर, वापी, बिलिमोरा, सूरत, भरूच, वड़ोदरा, आनंद अहमदाबाद और साबरमती होंगे।

कीवर्ड ahmedabad, mumbai, bullet train,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक