जलवायु परिवर्तन पर होगा मोटा खर्च

बीएस संवाददाता | पटना Sep 26, 2017 09:44 PM IST

बिहार सरकार ने चालू वित्त वर्ष में जलवायु परिवर्तन से ताल्लुक रखने वाले विभागों के लिए चालू वित्त वर्ष में 68,500 करोड़ रुपये का आवंटन किया है। राज्य सरकार के मुताबिक इस रकम से जलवायु परिवर्तन की वजह से उत्पन्न त्रासदियों से निपटने में मदद मिलेगी। हालांकि, जलवायु परिवर्तन पर जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक बिहार सरकार को हर साल इस संबंध में विभागों के बजट में कम से कम 13 फीसदी का इजाफा करना होगा। इस रिपोर्ट को आद्री और ब्रिटिश सरकार से वित्तीय मदद लेने वाली संस्था एक्शन ऑन क्लाइमेंट टूडे (ऐक्ट) ने तैयार किया है। 
 
इस रिपोर्ट को मंगलवार को राज्य के उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने जारी किया। इस मौके पर उन्होंने कहा, 'जलवायु परिवर्तन सिर्फ किस्से कहानियों की बात नहीं है, यह सच है और हो रहा है। यह हमारे सामने एक अहम नीतिगत चुनौती के रूप में उभरा है, जिसकी वजह से राज्य में आपदाओं के तीव्रता और तादाद में इजाफा हुआ है। यह बिहार सरकार के लिए एक अहम मुद्दे के रूप में उभरा है। इस साल के बाढ़ को छोड़ दें, तो 2005 से लेकर 2016 के बीच राज्य में 5 बार बड़ी बाढ़ आई है। इस वजह से राज्य में 4,000 लोगों की जान गई है, जबकि 42,000 से ज्यादा मवेशी मारे गए हैं। वहीं, बाढ़ की वजह से 1.4 लाख घर तबाह हुए हैं, जबकि करीब 1,800 करोड़ रुपये की फसल बर्बाद हुई है।'
कीवर्ड bihar, बिहार, सरकार, जलवायु परिवर्तन,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक