अशोक चौधरी ने दिखाया बागी तेवर

बीएस संवाददाता | पटना Sep 27, 2017 09:49 PM IST

बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष पद से हटाए जाने के बाद अशोक चौधरी ने बगावती बिगुल फूंक दिया है। साथ ही साथ उन्होंने कांग्रेस महासचिव और प्रदेश कांग्रेस प्रभारी सीपी जोशी पर भी आरोपों की झड़ी लगा दी। इसके अलावा, चौधरी ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के साथ पार्टी के जाने पर भी एतराज जताया। चौधरी को संगठनात्मक चुनावों से महज एक महीने पहले मंगलवार रात कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पद से हटा दिया था। साथ ही, कांग्रेस की प्रदेश कार्यसमिति भी भंग कर दी गई। चौधरी की जगह कौकब कादरी को राज्य कांग्रेस का कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया है।
 
कादरी ने बुधवार को पदभार भी ग्रहण कर लिया। हालांकि, इसके पहले बुधवार दिन में बर्खास्त अध्यक्ष अशोक चौधरी ने जमकर अपनी भड़ास निकाली। हालांकि, उन्होंने यह भी साफ कर दिया कि वह पार्टी नहीं छोड़ेंगे। साथ ही, उन्होंने राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद के राज्य कांग्रेस के नेताओं को 'चिरकुट' बताने पर भी कड़ा एतराज जताया। अपनी बात कहते-कहते वह मीडिया के सामने ही रो पड़े।
 
चौधरी के मुताबिक दलित होने के नाते उन्हें अपमानजनक तरीके से हटाया किया गया। उन्होंने अपने आधिकारिक आवास में संवाददाताओं से कहा, 'मुझे जिस तरीके से हटाया गया है, वह अपमानजनक है। मुझे जानकारी भी मीडिया से मिली। मेरे पिता और मैंने कुल मिलाकर 70 साल तक कांग्रेस पार्टी की सेवा की। मैंने अपने खून-पसीने से पार्टी को सींचा है।' चौधरी ने प्रदेश कांग्रेस प्रभारी सीपी जोशी पर भी जमकर हमला बोला। उनके मुताबिक जोशी लंबे वक्त से उनके खिलाफ साजिश रच रहे थे। 
कीवर्ड bihar, ashok chaodhary,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक