उत्तराखंड में चावल घोटाले की जांच होगी

शिशिर प्रशांत | देहरादून Oct 10, 2017 10:01 PM IST

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने 600 करोड़ रुपये के कथित चावल घोटाले की विशेष जांच कराने के आदेश दिए हैं। यह घोटाला उत्तराखंड की सार्वजनिक वितरण प्रणाली में हाल ही में सामने आया था, जिसके बाद कुमाऊं मंडल के क्षेत्रीय खाद्य आयुक्त को निलंबित कर दिया गया था। उधम सिंह नगर के जिलाधिकारी नीरज खैरवाल के नेतृत्व में गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) की शुरुआती जांच के बाद पिछले सप्ताह विष्णु सिंह धानिक को निलंबित कर दिया गया था। 

 
जांच में बड़े पैमाने पर वित्तीय अनियमितता और सार्वजनिक वितरण प्रणाली के गोदामों में खामियां पाई गई थीं। एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा, 'मुख्यमंत्री ने 600 करोड़ रुपये के चावल घोटाले की विशेष जांच के आदेश दिए हैं।' राज्य के वित्त विभाग का एक दल विशेष जांच करेगा। इसके पहले की हरीश रावत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने दो बार धानिक का कार्यकाल बढ़ाया था। एसआईटी द्वारा उधम सिंह नगर के रुद्रपुर, काशीपुर, किच्छा में दस्तावेजों की जांच और गोदामों से मिलान के बाद 600 करोड़ रुपये की अनियमितता पाई थी। 
कीवर्ड uttrakhand, rice, scam,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक