जीएसटी से भर रहा खजाना

रामवीर सिंह गुर्जर |  Oct 23, 2017 09:36 PM IST

दिल्ली सरकार

वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) से दिल्ली सरकार का खजाना भरने लगा है। जीएसटी के पहले दो माह जुलाई व अगस्त के लिए वस्तु व सेवाओं की बिक्री से दिल्ली सरकार को पिछले साल की समान अवधि से करीब 35 फीसदी ज्यादा कर मिला। पिछले वित्त वर्ष में इन दोनों माह के लिए कर वसूली महज 6.50 फीसदी बढ़ी थी। इस बार कर संग्रह में इतनी बड़ी बढ़ोतरी की वजह जीएसटी व्यवस्था से दिल्ली को सेवाओं पर कर का हिस्सा मिलना और अंतरराज्यीय बिक्री से भारी कर संग्रह हो सकती है। 

दिल्ली जीएसटी विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि सरकार को जुलाई महीने के लिए जीएसटी, आईजीएसटी व वैट से 2,183 करोड़ रुपये और अगस्त के लिए इन तीनों मदों में 2,247 करोड़ रुपये सहित दोनों माह में कुल 4,432 करोड़ रुपये कर संग्रह प्राप्त हुआ, जो पिछले साल के समान महीनों में प्राप्त 3,290 करोड़ रुपये से 34.70 फीसदी अधिक है। इन दो माह में प्राप्त कुल कर संग्रह में आईजीएसटी की हिस्सेदारी 22 फीसदी है।

अगस्त में दिल्ली को जीएसटी के रूप में 1,030 करोड़ रुपये मिले जबकि आईजीएसटी के रूप में 641 करोड़ रुपये मिले। जुलाई में ये आंकड़े क्रमश: 1048 करोड़ व 336 करोड़ रुपये थे। दिल्ली वैट व जीएसटी विभाग को इस वित्त वर्ष अप्रैल-सितंबर अवधि में 12,112 करोड़ रुपये कर संग्रह प्राप्त हो चुका है, जो पिछली समान अवधि में प्राप्त 10,084 करोड़ रुपये करीब 20 फीसदी अधिक है।

कीवर्ड GST, वस्तु एवं सेवा कर, जीएसटी,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक