उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री हेल्पलाइन सेवा जल्द

बीएस संवाददाता | लखनऊ Oct 25, 2017 10:09 PM IST

उत्तर प्रदेश में अब जनता की समस्याएं मुख्यमंत्री कार्यालय में सुनी जाएंगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अपने कार्यालय में आम जनता की शिकायतों के निवारण के लिए प्रकोष्ठ खोला जा रहा है। सीएम हेल्पलाइन सेवा के नाम से इस शिकायत निवारण कक्ष की शुरुआत अगले महीने से हो जाएगी। इस हेल्पलाइन सेवा पर फिलहाल सुबह से लेकर रात तक शिकायतें दर्ज करायी जा सकेंगी।
 
उत्तर प्रदेश मंत्रिपरिषद ने मुख्यमंत्री कार्यालय के आधीन शुरू होने वाले इस हेल्पलाइन सेवा के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। मंत्रिपरिषद के इस फैसले के बाद प्रदेश में बहुत जल्द सीएम हेल्प लाइन सेवा शुरू होगी। मंत्रिपरिषद के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा के मुताबिक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को प्रदेश की जनता को बहुत बड़ी सौगात दी है। जिसके तहत प्रदेश में जल्द ही मुख्यमंत्री हेल्पलाइन सेवा शुरू की जाएगी। यह हेल्प लाइन सेवा 24 घंटे काम करेगी। जहां लोगों की समस्याओं का तत्काल निराकरण किया जाएगा। साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद हेल्प लाइन का निगरानी करेंगे। शर्मा ने बताया कि शुरुआत में सीएम हेल्पलाइन सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक काम करेगी जिसे बाद में 24 घंटों के लिए खोल दिया जाएगा। इस हेल्पलाइन सेवा के लिए लखनऊ में 500 सीटों का कॉल सेंटर बनाया जाएगा। 
जांच के नाम उत्पीडऩ, तो होगी कार्रवाई
 
जीएसटी लागू होने के बाद दूसरे प्रदेशों में माल ले जाने वाले वाहनों की जांच के नाम पर सचल दल इकाइयों की मनमानी पर प्रशासन ने सख्त कदम उठाया है। कानपुर में वाणिज्यकर आयुक्त की ओर से जारी निर्देश में कहा गया है कि किसी भी माल लदे वाहन की प्रारंभिक जांच दो घंटे में पूरी की जाएगी। वाहन चालक, माल के मालिक का किसी भी प्रकार के उत्पीडऩ पर संबंधित अधिकारी-कर्मचारी पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक उपमुख्यमंत्री दिनेष शर्मा के पास कानपुर के तमाम व्यापार संगठनों ने ई-वे बिल के संबंध में उत्पीडऩ की शिकायत की थी। इन शिकायतों के आधार पर आयुक्त ने कई निर्देश जारी किए हैं।
कीवर्ड help line, uttar pradesh, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक