सेना के सहयोग से बनेगा एलफिंस्टन का रेलवे पुल

सुशील मिश्र | मुंबई Oct 31, 2017 10:18 PM IST

मुंबई के एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन पर भारतीय सेना के सहयोग से नए फुटओवर ब्रिज (एफओबी) का निर्माण किया जाएगा। साथ ही सेना मुंबई में दो और एफओबी बनाएगी। ये तीनों एफओबी अगले साल 31 जनवरी तक बनकर तैयार हो जाएंगे। एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन पर 29 सिंतबर को मची भगदड़ से 23 लोगों की मौत हो गई थी और करीब 40 लोग घायल हो गए थे। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और रेलवे मंत्री पीयूष गोयल ने आज सुबह स्टेशन का दौरा किया। फडणवीस ने कहा एलफिंस्टन हादसे के बाद उन्होंने रक्षा मंत्रालय से मदद के लिए कहा था। एलफिंस्टन स्टेशन के साथ ही मुंबई में दो अन्य उपनगरीय रेलवे स्टेशनों पर पैदल चलने वालों के लिए नया पुल बनाने में सेना की मदद ली जा रही है। फडणवीस ने कहा कि सेना को इस तरह का काम जल्दी निपटाने में महारत हासिल है।
सीतारमण ने कहा कि यह संभवत: यह पहला मौका है जब किसी असैन्य निर्माण कार्य में सेना भाग लेगी। सेना को सीमाओं पर भूमिका निभानी होती है लेकिन मामले की जरूरत को देखते हुए ऐसा करने का निर्णय लिया गया है। सेना ने उस जगह का मुआयना किया है जहां पुल का निर्माण किया जाना है। वह काम के हर चरण में मौजूद होगी। गोयल ने कहा कि एलफिंस्टन रोड, करी रोड और आंबिवली रेलवे स्टेशन पर ब्रिज बनाए जाएंगे और इस दौरान लोकल ट्रेन को बंद नहीं किया जा सकता है। लोकल बंद करने से लाखों यात्री को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता, ऐसे में यह मुश्किल काम था।
सरकार की इस घोषणा से लोकल से सफर करने वाले यात्री तो खुश हैं लेकिन विपक्षी दल इसकी आलोचना कर रहे हैं। उनका कहना है कि सेना का काम सीमाओं की सुरक्षा करना होता है और सार्वजनिक कार्यों में उसका इस्तेमाल गलत है। इससे देश में गलत परंपरा शुरू हो जाएगी।  कांग्रेसी नेता संजय निरुपम ने कहा कि रेलवे ब्रिज बनाने के लिए सेना को बुलाना रेलवे और महाराष्ट्र सरकार की नाकामी की पोल खोल रहा है।

कीवर्ड एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन, Mumbai, foot over bridge,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक