दिल्ली-एनसीआर के उद्योग पर प्रदूषण की मार

रामवीर सिंह गुर्जर | नई दिल्ली Nov 12, 2017 09:41 PM IST

ट्रकों के प्रवेश पर रोक से रुका माल, बिक्री पड़ी सुस्त

बढ़ते प्रदूषण की मार दिल्ली-एनसीआर के उद्योग पर पड़ रही है। ट्रकों के दिल्ली में प्रवेश पर रोक से कारोबारियों का माल दिल्ली से बाहर नहीं जा पा रहा है और बाजारों में खरीदारों की संख्या घटने से बिक्री सुस्त है। प्रदूषण के चलते होटल उद्योग में बुकिंग रद्द होने लगी है। अब दिल्ली के साथ उत्सर्जन फैलाने वाले एनसीआर के उद्योगों पर भी कुछ दिनों के लिए रोक लग गई है। इस बीच रविवार को दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण स्तर और बढ़ गया है। गाजियाबाद में प्रशासन ने डाबर और भूषण स्टील समेत 65 कारखानों को अगले आदेश तक के लिए बंद करा दिया। 

दिल्ली व्यापार संघ के अध्यक्ष देवराज बवेजा ने कहा कि ट्रकों के प्रवेश पर पाबंदी और बाजारों में ग्राहक कम आने से बिक्री सुस्त है। दिल्ली होटल ऐंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष संदीप खंडेलवाल ने कहा कि बीते कुछ दिनों से नई बुकिंग तो घटी ही है, काफी पर्यटक बुकिंग रद्द भी करा रहे हैं। दिल्ली फैक्टरी ओनर्स  फे डरेशन के वरिष्ठï कार्यकारिणी सदस्य संजय गौड़ ने कहा कि ट्रकों के प्रवेश पर रोक से माल बाहर नहीं जा पा रहा है। नोएडा ऑन्ट्रप्रन्योर एसोसिएशन के अध्यक्ष विपिन मल्हन ने कहा कि प्रदूषण नियंत्रण के लिए उपाय करने वाले उद्योगों को बंद करने के नोटिस देना उचित नहीं है। क्रे डाई दिल्ली-एनसीआर के अध्यक्ष पंकज बजाज ने कहा कंस्ट्रक्शन पर पाबंदी से समय पर मकानों की डिलिवरी देने में दिक्कत होगी। 
कीवर्ड delhi, pollution, smog,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक