दिल्‍ली सरकार आपके द्वार : अब सेवाओं की होम डिलिवरी करेगी दिल्ली सरकार

बीएस संवाददाता | नई दिल्‍ली Nov 16, 2017 06:22 PM IST

घर पर सेवा

उपयोगकर्ता के समयानुसार घर पर भरा जाएगा आवेदन, मामूली होगा शुल्क
शुरुआत में 40 सेवाएं, इसके बाद हर माह जुड़ेगी 30-30 सेवाएं
सेवाओं की होम डिलिवरी के लिए निजी एजेंसी की मदद लेगी सरकार, बनेगा कॉल सेंटर

अब दिल्ली वालों को अगले कुछ माह में जाति प्रमाण पत्र, पानी और सीवेज कनेक्शन, स्थानीय निवास प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, विधवा पेंशन जैसी करीब 40 सेवाओं के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। दरअसल, दिल्ली मंत्रिमंडल ने सरकारी सेवाओं की होम डिलिवरी करने का निर्णय लिया है। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि अब तक लोगों को तमाम सरकारी सेवाओं के लिए दफ्तरों के चक्कर काटने पड़ते थे लेकिन अब दिल्ली सरकार इन सेवाओं को मामूली शुल्क पर घर जाकर लोगों को मुहैया कराएगी। इसके लिए सरकार एक निजी एजेंसी की मदद लेगी, जो कॉल सेंटर के माध्यम से काम करेगी। होम डिलिवरी के मोबाइल सहायक नियुक्‍त होंगे। सेवा लेने वाले को कॉल सेंटर में फोन करना होगा। इसके बाद मोबाइल सहायक संबंधित व्‍यक्ति द्वारा दिए गए समय पर घर जाकर सेवा से संबंधित दस्तावेजों को वहीं से अपलोड करेंगे और फोटो न होने पर बायोमेट्रिक मशीन के जरिये फोटो अपलोड़ किया जाएगा।

सिसोदिया ने कहा कि पहले चरण के तहत 40 सेवाओं को शामिल किया जाएगा। इसके बाद हर माह 30-30 सेवाएं जुड़ती जाएंगी। 40 सेवाओं में जाति प्रमाण पत्र, मूल निवासी प्रमाणपत्र, पानी व सीवेज कनेक्शन, विवाह पंजीयन, विकलांग पंजीयन, जन्म प्रमाण पत्र, बिल्डिंग कानून के तहत कंस्ट्रक्शन वर्कर का पंजीयन, विधवा व अन्य पेंशन आदि सेवाओं को शामिल किया गया है। सिसोदिया ने कहा कि बीते तीन साल में इन 40 सेवाओं के लिए औसतन 25 लाख आवेदन प्राप्त हुए। मौटे तौर पर एक-एक सेवा के लिए विभाग के 4-5 चक्कर काटना आम बात है। ऐसे में सेवाओं की होम डिलिवरी से लोगों को काफी राहत मिलेगी। हालांकि जिन सेवाओं के लिए शारीरिक रूप से उपस्थिति अनिवार्य है - मसलन ड्राइलिंग लाइसेंस के लिए जाना होगा। इन सेवाओं के लिए शुल्क के बारे में सिसोदिया ने कहा यह मामूली और सबके वहन योग्य होगा। अभी एजेंसी नियुक्‍त करने का काम चल रहा है। अगले दो से तीन माह के अदंर 40 सेवाओं के लिए होम डिलिवरी व्यवस्था शुरू होने की उम्मीद है।

कीवर्ड सेवा, होम डिलिवरी, दिल्ली सरकार, आवेदन, शुल्क, प्रमाण पत्र, पेंशन, मनीष सिसोदिया,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक