शराबकांड में मृतकों की संख्या हुई 4

बीएस संवाददाता | पटना Nov 17, 2017 10:24 PM IST

बिहार के वैशाली जिले में जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या बढ़कर चार हो गई है। शुक्रवार को जहरीली शराब पीने से अब भी छह लोगों की स्थिति गंभीर बनी हुई है। वहीं, इस कांड के बाद जिला प्रशासन ने पूरे थाने को लाइन हाजिर कर दिया है। जिले के राजापाकर इलाके के बसौली गांव में सोमवार की देर रात इन लोगों ने ताड़ी कारोबारी पासवान के घर देसी शराब पी थी। पासवान का भाई स्थानीय थाने में बतौर चौकीदार नियुक्त था। इसके बाद मंगलवार को सभी को उल्टी, दस्त और पेट दर्द की शिकायत होने लगी। इन सभी को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां दो लोगों की मौत मंगलवार को हो गई। इसके बाद सभी को जिला अस्पताल भेज दिया गया, जहां एक व्यक्ति की गुरुवार को मौत हो गई। इस कांड में मरने वालों की तादाद शुक्रवार को बढ़कर चार हो गई, जब मोहन पासवान नामक एक व्यक्ति की मौत हाजीपुर सदर अस्पताल में हो गई। इस शराबकांड में अब भी 6 लोगों की स्थिति गंभीर बनी हुई है। 
 
वहीं, शुक्रवार को इस घटना की जांच भी शुरू हो गई। आरोपी अदालत पासवान को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वहीं, उसके घर की गहन तलाशी भी ली गई। हालांकि, पुलिस अब भी इस घटना को जहरीली शराबकांड मानने से इनकार कर रही है। अपर पुलिस महानिदेशक (मुख्यालय) एस के सिंघल ने बताया, 'पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। बिसरा को जांच के लिए विधि विज्ञान प्रयोगशाला में भेज दिया गया है। जब तक जांच रिपोर्ट नहीं आ जाती, इस बारे में कहा नहीं जा सकता है।' यह राज्य में बीते साल शराबबंदी के लागू होने के बाद जहरीली शराब से मौत की चौथी बड़ी घटना है। 
 
पैक्सों में भी लागू होगा आरक्षण
 
आउटसोर्सिग में आरक्षण लागू करने के बाद बिहार सरकार प्राथमिक कृषि साख समितियों (पैक्स) में भी आरक्षण लागू करने वाली है। राज्य के उप-मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने शुक्रवार को पटना के ज्ञान भवन में सहकारिता विभाग में इस बाबत ऐलान किया। हालांकि, इस ऐलान के बाद उनके खिलाफ जबरदस्त नारेबाजी भी हुई। गौरतलब है कि आरक्षण के मुद्दे पर राज्य भाजपा में एकमत नहीं है।
कीवर्ड bihar, बिहार, सरकार, liquor,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक