बिजली कनेक्शन के लिए अतिरिक्त शुल्क नहीं

बीएस संवाददाता | लखनऊ Jan 12, 2018 10:16 PM IST

उत्तर प्रदेश में अब निजी भवनों को बहुमंजिला बनाने पर बिजली कनेक्शन के लिए अतिरिक्त शुल्क नहीं देना होगा। उत्तर प्रदेश राज्य विद्युत नियामक आयोग ने बेसमेंट को हटाकर चारमंजिल से उपर के भवन को बहुमंजिला मानने का प्रावधान कर दिया है। अब भूतल एवं बेसमेंट सहित चार मंजिल तक भवन बनाने वालों ट्रांसफार्मर सहित अन्य शुल्कों का भुगतान नहीं करना होगा। ऐसे भवनों को सामान्य घरेलू बिजली उपभोक्ता की श्रेणी में रखा जाएगा। विद्युत नियामक आयोग द्वारा गठित विद्युत वितरण संहिता पुनर्विलोकन पैनल सब कमेटी की बैठक शुक्रवार को आयोग अध्यक्ष एसके अग्रवाल की अध्यक्षता में हुयी। नियामक आयेाग के पास पूरे प्रदेश से बहुमंजिला इमारत के मामले में बडे पैमाने पर शिकायतें आ रही थी कि जब घरेलू उपभोक्ता तीन मंजिला या उससे ऊपर के भवन का निर्माण कराता है तो उसे बड़े पैमाने पर परेशान किया जाता था। जिस पर विद्युत नियामक आयोग द्वारा आज पुराने कानून में संशोधन कर नया कानून पारित कर दिया गया। 
 
नियामक आयोग की सब कमेटी ने आज विद्युत वितरण संहिता 2005 में बहुमंजिला इमारत के मामले में एक नया संशोधन कर दिया है। अभी तक मल्टीस्टोरी के मामले में 3 मंजिल व उससे ऊपर भवन को बहुमंजिल माना जाता था और उपभोक्ताओं को ट्रांसफार्मर सहित अन्य चार्ज का भुगतान करना पड़ता था। 
कीवर्ड uttar pradesh, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक