महाराष्ट्र विधानसभा में 9 मार्च को पेश होगा बजट

बीएस संवाददाता | मुंबई Feb 08, 2018 09:50 PM IST

महाराष्ट्र विधानसभा के बजट सत्र की शुरुआत 26 फरवरी से होगी। 9 मार्च को राज्य का बजट पेश होगा। राज्य में सबसे लंबा चलने वाले इस बजट सत्र में चार अध्यादेश और छह विधेयक पारित कराने की पूरी कोशिश करेगी। दूसरी तरफ विपक्ष किसान आत्महत्या और कर्ज माफी के मुद्दे पर सरकार को घेरने की तैयारी कर रही है। ऐसे में राज्य में बजट सत्र काफी धमाकेदार रह सकता है। बजट सत्र 28 मार्च को समाप्त हो जाएगा। बजट सत्र में इस साल कुल 35 कार्य दिवस होंगे, जिनमें 22 दिन काम होगा। 9 मार्च को दोपहार दो बजे महाराष्ट्र का 2018-19 का बजट सदन में पेश किया जाएगा। इस अधिवेशन मेंं विधानसभा में एक विधेयक और विधानपरिषद में चार विधेयक लंबित हैं। इस बार चार प्रस्तावित अध्यादेश और छह प्रस्तावित विधेयक सदन के पटल पर रखे जाएंगे। किसान कर्ज माफी और जमीन अधिग्रहण जैसे मुद्दों के बीच महाराष्ट्र के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार बजट पेश करेंगे। 
 
पिछले साल मुनगंटीवार ने राज्य विधानसभा में 62, 844 करोड़ रुपये का बजट पेश किया था। इसमें से 38, 872 करोड़ की धनराशि कर्ज के तौर पर निकाली गई थी। पिछली बार की तरह इस बार भी विपक्षी दल जमकर हंगामा खड़ा कर सकते हैं। सरकार के सामने सबसे बड़ी समस्या विपक्ष के साथ अपनी सहयोगी शिवसेना को मनाने की है। शिवसेना लगातार सरकार के खिलाफ अपने कड़े तेवर दिखा रही है। शिवसेना किसानों के मुद्दे पर सरकार के रुख के खिलाफ खड़ी है। पार्टी पहले ही ऐलान कर चुकी है कि वह 2019 का लोकसभा और विधानसभा का चुनाव अकेले लड़ेगी। इससे साफ है कि इस बजट सत्र में शिवसेना विपक्ष से भी ज्यादा आक्रामक रहने वाली है। ऐसे में सरकार को विधेयक पास कराना मुश्किल होगा। इस समय महाराष्ट्र विधानसभा में सबसे भाजपा के सर्वाधिक 122 विधायक हैं, जबकि शिवसेना के 63 विधायक है। 
कीवर्ड mumbai, shivsena, BJP, budget,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक