महाराष्ट्र में बनेगा 'आग बम'

बीएस संवाददाता | मुंबई Feb 22, 2018 09:47 PM IST

महाराष्ट्र भीषण आग पर काबू पाने में इस्तेमाल होने वाले फायर बम का उत्पादन करेगा। कई बार भारी यातायात के कारण अग्निशमन दल के कर्मचारियों को मौके पर पहुंचने में भारी मशक्त करनी पड़ती है। कई बार तो आग बुझाने के लिए पानी की कमी का भी सामना करना पड़ता है। इन मौकों पर आग बुझाने वाले बम काफी कारगार साबित हुए हैं। हाल में भीषण आग पर काबू पाने के लिए फायर फायटिंग बॉल (आग बम) का इस्तेमाल बढ़ा है। ये आग बम विदेशों से आयात किए जाते हैं, लेकिन अब इनका उत्पादन महाराष्ट्र में भी शुरू किया जाएगा।  
 
ब्रांडेडैडी ग्रुप ने ऑटो फायर एक्सटिंग्विशर बॉल (एएफई) का उत्पादन महाराष्ट्र में करने की घोषणा की है। शुरू में महाराष्ट्र के औरंगाबाद में प्रायोगिक तौर पर इसका उत्पादन होगा और बाद में व्यावसायिक उत्पादन की शुरुआत हो जाएगी। लॉजिस्टिक कंपनी ग्लोबल ओसियन ग्रुप ब्रांडेडैडी ग्रुप के सहयोग से उत्पादन करेगी। इसके लिए दोनों कंपनियों के बीच कारोबारी करार हो चुका है।  ग्लोबल ओसियन ग्रुप के प्रबंध निदेशक बृजेश लोहिया ने कहा कि स्टार्टअप कंपनियों को मिल रहे सरकारी प्रोत्साहन से यह संभव हुआ है। ब्रांडेडैडी ग्रुप के प्रमुख रोशन मिश्रा ने अनुसार आगजानी की दुर्घटनाएं बढ़ रही है और अब शहरों का आकार और परिस्थितियां में बदलाव देखे जा रहे हैं। मिश्रा ने कहा कि ऐसे में आग पर काबू पाने और नुकसान रोकने के लिए नए और आधुनिक उपकरणों की जरूरत है। उन्होंने कहा कि फायर बॉल इसमें कारगर साबित होगा। आग बुझाने में आने वाला यह 1.2 किलोग्राम का एक गोलाकार उपकरण है, जिसे आग बम के नाम से जाना जाता है। यह 70 डिग्री तापमान होने पर 5 सेकेंड के भीतर फट जाता है। इसके फटते ही धूल, राख और आग बुझाने वाले पदार्थ तेजी से चारों तरफ फैलते हैं, जिससे आग बुझाने में मदद मिलती है। इसका उपयोग पांच साल तक किया जा सकता है। फिलहाल चीन और थाईलैंड से फायर बॉल का आयात हो रहा है। 
कीवर्ड mumbai, fire,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक