उत्तर प्रदेश में उद्योग लगाना होगा आसान

बीएस संवाददाता | लखनऊ Feb 27, 2018 10:25 PM IST

उत्तर प्रदेश सरकार निवेशक सम्मेलन के दौरान शुरू की गई डिजिटल मंजूरी व्यवस्था 'निवेश मित्र' को और आसान करने जा रही है। योगी सरकार प्रदेश में उद्योग लगाने के लिए कुछ बेहद संवेदनशील अनापत्तियों को छोड़कर बाकी की प्रक्रिया को स्वत: मंजूरी देने की तैयारी कर रही है।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर प्रदेश सरकार के एकल खिड़की मंजूरी प्रणाली को आसान बनाने का काम किया जा रहा है। औद्योगिक  विकास विभाग के अधिकारियों से कहा गया है कि अग्नि सुरक्षा, विद्युत सुरक्षा जैसे कुछ संवेदनशील विषयों में अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) को छोड़कर बाकी सभी एनओसी के लिए स्वत: मंजूरी की व्यवस्था लागू की जाए। निवेशकों की राह आसान करने वाले डिजिटल एकल मंजूरी प्रणाली निवेश मित्र की शुरुआत बीते सप्ताह हुए निवेशक सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी।
निवेशक सम्मेलन के बाद निवेश प्रस्तावों के क्रियान्वयन पर बुलाई गई बैठक में अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को जानकारी दी कि 'निवेश मित्र' ऑनलाइन पोर्टल में पिछले पांच दिनों में 235 व्यक्तियों द्वारा पंजीकरण कराया गया है जबकि  विभिन्न प्रकार की अनापत्तियों के लिए 39 अनुरोध प्राप्त हो चुके हैं। निवेश मित्र के तहत अग्नि एवं विद्युत सुरक्षा जैसी अहम सुविधाओं की एनओसी को छोड़कर, शेष सुविधाओं में स्वत: मंजूरी व्यवस्था लागू करने के संबंध में विचार किया जा रहा है। 
बैठक में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि एक जनपद, एक उत्पाद योजना प्रदेश की एक महत्त्वपूर्ण योजना है। उन्होंने इस योजना को मुद्रा योजना, स्टैंडअप योजना, स्टार्टअप योजना आदि से जोड़े जाने के निर्देश दिया। 
 
कीवर्ड UP, Investment, Summit, Nivesh mitra,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक