एनएमडीसी को अक्टूबर तक परियोजना पूरी करने का निर्देश

भाषा | नई दिल्ली Mar 19, 2018 09:46 PM IST

एक संसदीय समिति ने साढ़े तीन साल बाद भी एनएमडीसी के पहले इस्पात संयंत्र का परिचालन शुरू नहीं होने पर चिंता जताई है।  समिति ने परियोजना पर काम तेज करने के लिए कहा है और इस साल अक्टूबर तक इसे पूरा करने का निर्देश दिया। छत्तीसगढ़ में तैयार हो रहे इस संयंत्र की सालाना क्षमता 30 लाख टन होगी।  कंपनी ने पहले कहा था कि 18,000 करोड़ रुपये लागत से तैयार हो रहा यह संयंत्र मई 2015 तक तैयार कर लिया जाएगा। कोयला एवं इस्पात से जुड़ी एक स्थायी समिति ने कहा कि नगरनार में तैयार हो रहे एनएमडीसी के इस लौह एवं इस्पात संयंत्र में करीब 41 महीने की देरी हो चुकी है। 
 
राकेश सिंह की अध्यक्षता वाली 29 सदस्यीय समिति ने पिछले महीने संसद में कहा था कि लंबित वैधानिक मंजूरियां, बस्तर में बाढ़, बांध बनाने में देरी, पानी की पाइपलाइन के मालिकाना हक पर विवाद, कुशल श्रम की कमी आदि परियोजना में देरी की वजह बताई गई है।  रिपोर्ट में कहा गया, समिति को आश्वस्त किया गया है कि इनमें से अधिकांश रुकावटें दूर की जा चुकी हैं और परियोजना अक्टूबर 2018 तक पूरी कर ली जाएगी। 
कीवर्ड NMDC, steel,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक