सोलर चरखे बांटेगी यूपी सरकार

बीएस संवाददाता | लखनऊ Mar 28, 2018 10:02 PM IST

खादी के निर्माण में आधुनिक तकनीकी को बढ़ावा देने के लिए योगी सरकार खादी ग्रामोद्योग समितियों के जरिए बुनकरों को ये चरखे देगी। हर खादी समिति को 25-25 चरखे दिए जाएंगे। सोलर चरखे से बनी खादी को बिक्री में प्रदेश सरकार विशेष छूट भी देगी। उत्तर प्रदेश के खादी एवं ग्रामोद्योग मंत्री  सत्यदेव पचौरी के मुताबिक राज्य सरकार खादी एवं ग्रामोद्योग उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए  ़अत्याधुनिक टेक्नालाजी के अपनाने पर जोर देगी।  इसके लिए उद्यमियों को आवश्यक प्रशिक्षण देने  की व्यवस्था की जा रही है, जिससे उत्तर प्रदेश के खादी परिधान तथा ग्रामोद्योग उत्पादों की अंतरराष्ट्रीय बाजार में अपनी विशिष्ट पहचान बना सकें। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने सोलर चर्खें से निर्मित होने वाली खादी को रिबेट देने का फैसला लिया है। 
 
खादी ग्रामोद्योग मंत्री ने कहा कि ग्रामीण इलाकों में में महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने और रोजगार उपलब्ध कराने  के लिए प्रत्येक खादी ग्रामोद्योग समितियों को 25-25 सोलर चरखे उपलब्ध कराये जाएंगे।  पचौरी ने कहा कि खादी बोर्ड ने संकल्प लिया है कि उत्तर प्रदेश के खादी एवं ग्रामोद्योग उत्पादों को नई पहचान दिलाई जाय। इसके लिए बोर्ड द्वारा उद्यमियों को अत्याधुनिक तकनीकि से परिचित कराने और प्रशिक्षित करने के लिए कदम उठाए गये हैं।  प्रमुख सचिव, खादी एवं ग्रामोद्योग नवनीत सहगल ने बताया कि खादी एवं ग्रामोद्योग के क्षेत्र में नये उद्यमियों को तैयार करने के प्रदेश सरकार पूरी तरह प्रयासरत है।  सरकार का प्रयास है कि इसके जरिए ज्यादा से ज्यादा रोजगार उपलब्ध कराये जायं। इसके लिए खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड हर सम्भव प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि जो लाभ बड़े उद्योगों मिलता है, उसी प्रकार खादी एवं ग्रामोद्योग उद्यमियों को भी लाभ व छूट दी जा रही है।  
 
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने खादी एवं ग्रामोद्योग को बढ़ावा देने के लिए पहली बार खादी एवं ग्रामोद्योग नीति लागू की है। उद्यमियों को इसका लाभ उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में खादी परिधानों की सबसे ज्यादा बिक्री होती है, लेकिन बिक्री के हिसाब से इनका उत्पादन नहीं हो पाता है। खादी बोर्ड न इस ओर अब विशेष ध्यान केन्द्रित किया है। 
कीवर्ड uttar pradesh, khadi,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक