सेवानिवृत्त न्यायाधीश करेंगे जांच समिति की अध्यक्षता

भाषा | मुंबई Apr 02, 2018 09:30 PM IST

महाराष्ट्र सरकार ने आज बंबई उच्च न्यायालय को सूचित किया कि अदालत के सेवानिवृत्त मुख्य न्यायाधीश ए वी सावंत को कमला मिल्स परिसर में लगी आग की घटना की जांच के लिए गठित तीन सदस्यीय समिति का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। पिछले साल दिसंबर में हुई इस घटना में14 लोगों की मौत हो गई थी। उच्च न्यायालय ने राज्य सरकार को घटना की जांच के लिए एक समिति गठित करने का आदेश दिया था। पीठ सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी जूलियो रिबेरो द्वारा दायर जनहित याचिका पर सुनवाई कर रही थी। 
 
उन्होंने घटना की न्यायिक जांच समेत अन्य मांगें रखी थीं। सरकार की ओर से उपस्थित वरिष्ठ अधिवक्ता विनीत नाइक ने न्यायमूर्ति एस एम केमकर और न्यायमूर्ति एम एस कार्णिक के पीठ को बताया कि समिति का गठन हो गया है। सेवानिवृत्त मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति ए वी सावंत की अध्यक्षता वाली समिति में दो अन्य सदस्यों के रूप में वसंत ठाकुर और के नलिनक्षण होंगे।  ठाकुर उच्च न्यायालय के पैनल में शामिल एक वास्तुकार हैं जबकि नलिनक्षण पूर्व मुख्य सचिव हैं। पीठ ने समिति को 31 अगस्त या उससे पहले अपनी पहली रिपोर्ट सौंपने को कहा।
 
समिति इस बात की जांच करेगी कि कहीं भूमि या रेस्तरां के मालिकों ने किसी मानदंड का उल्लंघन तो नहीं किया था। क्या आग लगने की तात्कालिक वजह स्वीकूत योजनाओं और विभिन्न प्राधिकारों द्वारा दी गई मंजूरी का उल्लंघन था और क्या नगर निकाय और सरकारी अधिकारियों की तरफ से कर्तव्य पालन में कोई लापरवाही तो नहीं हुई। समिति इस तरह की घटनाओं की पुनरावृत्ति को रोकने के लिए उठाए जाने वाले कदमों और अन्य आग सुरक्षा अनुपालन कदमों की सिफ ारिश करेगी।
कीवर्ड mumbai, court,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक