पाकिस्तान तक पहुंची बस्तर की इमली

बीएस संवाददाता | जगदलपुर Apr 10, 2018 10:08 PM IST

अब तक 45 करोड़ रुपये हो चुकी है बिक्री

एशिया की सबसे बड़ी इमली मंडी से अब उच्च गुणवत्ता की इमली तमिलनाडु के रास्ते सीधे पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान तक भेजी जा रही है। पाकिस्तान के बाशिंदे बस्तर में पैदा होने वाली इमली के मुरीद हैं और यही वजह है कि यहां से हर साल टनों इमली पड़ोसी मुल्क भेजी जा रही है। मंडी सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बस्तर में इमली की पैदावार थोक में होती है और इसके स्वाद के मुरीद देश के कई राज्यों के लोगों के साथ ही विदेशी भी हैं। ऐसे में आंध्रप्रदेश, तेलंगाना और तमिलनाडु के रास्ते बस्तर की इमली पड़ोसी मुल्क तक पहुंच रही है।

बताया गया है कि मंडी में न्यूनतम 2,800 और अधिकतम 4,300 रुपये प्रति क्विंटल की दर से इमली की खरीद-बिक्री चल रही है। 2017-18 में फरवरी तक 44.5 करोड़ रुपये की इमली की खरीद मंडियों में हो चुकी थी। तमिलनाडु, दिल्ली, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और उत्तरप्रदेश सहित देश के कई राज्यों में बस्तर के व्यापारी इमली भेजते हैं। तमिलनाडु के व्यवसायी समुद्र के रास्ते पाकिस्तान और अफगानिस्तान तक इमली की आपूर्ति कर रहे हैं। 

बीते साल 25.93 करोड़ रुपये की इमली की खरीद की गई थी और अधिकतम 7,100 रुपये प्रति क्विंटल तक व्यापारियों ने संग्राहकों को चुकाया था। इसी तरह 2015-16 में कुल 5.94 करोड़ रुपये की इमली मंडी में खरीदी गई। हालांकि इस साल इमली की फसल कमजोर बताई जा रही है। ब्रिटेन के लोग भी इमली पाउडर की बेहद पसंद करते हैं। इसके चलते इसकी खपत में काफी तेजी आई थी, लेकिन पिछले दो वर्षों से बस्तर की मंडी से इमली सीधे ब्रिटेन नहीं जा पा रही है। मंडी सचिव सुरेश चौरे कहते हैं कि व्यवसायी स्वतंत्र हैं।
कीवर्ड bastar, agri,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक