स्टार्टअप शुरू करने वालों की होगी मदद

बीएस संवाददाता | पटियाला Apr 10, 2018 10:09 PM IST

वित्त का प्रबंध करेगी पंजाब सरकार

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि उनकी सरकार स्टार्टअप शुरू करने वाले युवाओं के लिए वित्त का प्रबंध करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मकसद से राज्य सरकार ने बैंकों और वित्तीय संस्थानों को वित्तीय मदद के लिए आगे आने के लिए कहा है।  मुख्यमंत्री पीएचडी चैंबर और राज्य के औद्योगिक विभाग द्वारा ग्रामीण उद्यमशीलता एवं नवाचार पर आयोजित दो दिवसीय सम्मेलन एवं प्रदर्शनी में यहां भाग लेने आए थे। उन्होंने राज्य सरकार की स्टार्टअप योजना के तहत युवाओं से स्वरोजगार की तरफ प्रेरित होने का आह्वïान किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्टार्टअप युवाओं के लिए स्वरोजगार का रास्ता खोलते हैं और युवाओं को रोजगार भी मुहैया कराते हैं।

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर 'घर-घर रोजगार' कार्यक्रम का भी जिक्र किया। इस योजना के तहत अब तक 1.62 लाख रोजगार मुहैया कराए गए हैं। उन्होंने राज्य के युवाओं के लिए पर्याप्त रोजगार सृजित करने का संकल्प दोहराया। कैप्टन ने मोहाली में विकसित हो रहे सूचना-प्रौद्योगिकी केंद्र का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि इसका मकसद आईटी क्षेत्र को राज्य के प्रतिभावान युवाओं के लिए रोजगार के एक प्रमुख क्षेत्र के तौर पर तैयार करना है। उन्होंने वैश्विक स्तर पर तकनीकी क्षेत्र में आ रहे बदलावों की ओर ध्यान दिलाया। उन्होंने प्रतिस्‍पर्धी बने रहने के लिए तकनीक में हो रहे बदलावों के साथ रहने को कहा। 

मुख्यमंत्री ने अपनी सरकार के कौशल विकास कार्यक्रम का खाका भी सार्वजनिक किया। उन्होंने कहा इस कदम का मकसद राज्य के अपेक्षाकृत कम पढ़े-लिखे युवाओं को विशेष कौशल विकास का प्रशिक्षण देना है। उन्होंने कहा कि इन युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए राज्य के करीब 200 से अधिक औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (आईटीआई) में प्रशिक्षण दिए जाएंगे।  इस अवसर पर राज्य के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ब्रह्मï महिंद्रा ने कहा कि विभिन्न मेडिकल एवं पैरा-मेडिकल क्षेत्रों में रोजगार देने के लिए उनकी सरकार जल्द ही एक रोजगार मेला आयोजित करेगी। उन्होंने कहा कि राज्य में युवाओं के बीच उद्यमशीलता को बढ़ावा देने और उन्हें प्रशिक्षित करने के लिए पीएचडी चैंबर एक अहम भूमिका निभा सकता है।  दूसरी तरफ तकनीकी शिक्षा, रोजगार सृजन एवं कौशल विकास सचिव भावना गर्ग ने कहा कि पटियाला के युवाओं को तकनीकी जानकारी देने के लिए एक कार्यक्रम की पहले ही शुरुआत हो चुकी है। उन्होंने कहा कि दूसरे क्षेत्रों में भी इस कार्यक्रम की शुरुआत की जाएगी।
कीवर्ड panjab, मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक