चना, मसूर और सरसों की सरकारी खरीद!

बीएस संवाददाता | लखनऊ Apr 10, 2018 10:10 PM IST

किसानों को राहत देने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार अब गेहंू, धान के अलावा चना, मसूर और सरसों की भी सरकारी खरीद करेगी। खरीद सीधे किसानों से की जाएगी जिसके लिए सभी जिलों में क्रय केंद्र खोले जाएंगे। प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने बताया कि किसानों को उनकी उपज का उचित समर्थन मूल्य दिलाने के चना, मसूर और सरसों की खरीद की जाएगी। प्रदेश सरकार चना 4,400 रुपये, मसूर 4,250 रुपये जबकि सरसों 3,900 रुपये क्विंटल के भाव खरीदेगी। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार ने उत्तर प्रदेश को 1.20 लाख टन चना, 1.20 लाख टन मसूर और 1.60 लाख टन सरसों खरीदने की अनुमति दी है। 

 
शाही ने कहा कि उत्तर प्रदेश में यह पहला मौका है जब 72 घंटे में ही किसानों को उनकी उपज का मूल्य उनके बैंक खाते में दिया गया है। चना, मसूर व सरसों बेचने वाले किसानों को भी इसी तरह से भुगतान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बीते साल की तरह इस बार भी गेहंू की बड़े पैमाने पर सरकारी खरीद की जा रही है। कृषि मंत्री ने बताया कि अब तक 9 दिन में 1.19 लाख टन गेहूं की खरीद हो चुकी है। किसानों के लिए योगी सरकार के द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी देते हुए कृषि मंत्री ने कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने के लिए केंद्र सरकार लगातार लगी हुई है। उसे ध्यान में रखते हुए 2 मई को उत्तर प्रदेश के सभी विकासखंडों के भीतर कृषि कल्याण कार्यशाला लगाई जाएगी, जिसमें कृषि और कृषि से जुड़े सभी विभाग वहां पर मौजूद रहेंगे। किसानों की आय किस तरीके से बढ़ाई जाए, इस पर किसानों को जानकारी दी जाएगी। 
 
उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड में सूखे को लेकर बीज सब्सिडी देने पर विचार किया जा रहा है।  शाही ने बताया कि अंतराष्टï्रीयचावल शोध संस्थान फिलीपींस का उपकेंद्र  वाराणसी में खोला जाएगा। इंटरनैशनल राइस रिसर्च सेंटर फिलीपींस ने उप-शोध केंद्र खोलने का प्रस्ताव दिया था, वाराणसी में उसके लिए जमीन उपलब्ध करा दी गई है। उन्होंने कहा कि अनाजों की गुणवत्ता और उत्पादन में कमी को दूर करने के लिए रणनीति बनाई जाएगी।
कीवर्ड uttar pradesh, agri, paddy,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक