पंजाब में युवाओं का होगा कौशल विकास

बीएस संवाददाता | जालंधर Apr 12, 2018 09:39 PM IST

युवाओं को तकनीकी रूप से दक्ष बनाने के लिए पंजाब कौशल विकास मिशन ने डिस्ट्रिक्ट ब्यूरोज ऑफ एम्प्लायमेंट ऐंड एंटरप्राइजेज (डीबीईई) एवं रीजनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंग्लिश (आरआईई) के साथ एक जिला स्तरीय कार्यक्रम शुरू किया है। इस कार्यक्रम का मकसद युवाओं को रोजगार एवं प्रतिस्पद्र्धा का मुकाबला करने के लिए तैयार करना है। इस परियोजना के लिए आरआईई के कुशल पेशेवरों ने 120 घंटे का एक विशेष पाठ्यक्रम शुरू किया है। इस बारे में पंजाब सरकार के एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि यह परियोजना पंजाब के सभी 22 जिलों में शुरू की गई है और इस पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए नामांकन जारी है। प्रवक्ता ने कहा, 'पाठ्यक्रम के दो स्तर होंगे।  पहले स्तर पर उन लोगों को प्रशिक्षित किया जाएगा, जिन्होंने दसवीं कक्षा तक की पढ़ाई की है। दूसरा स्तर वृहद है और यह ऐसे लोगों के लिए है, जिनके पास दसवीं के बाद डिप्लोमा है या स्नातक तक की पढ़ाई की है। इस पाठ्यक्रम का मकसद युवाओं में संवाद कौशल, प्रस्तुतिकरण के तरीके में सुधार कर अन्य दआवश्यक रोजगारपरक खूबियों से लैस करना है।'
 
प्रवक्ता ने कहा कि पटियाला के नाभा रोड आईटीआई में ऐसे एक केंद्र की शुरुआत हुई है। उन्होंने कहा कि जिन युवाओं की इस कार्यक्रम में रुचि है, वे इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। प्रवक्ता के अनुसार युवा पाठ््यक्रम में नामांकन के लिए जिला ब्यूरो में भी संपर्क कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि यह एक रोजगारोन्मुखी पाठ््यक्रम है, जो पंजाब सरकार मामूली शुल्क लेकर चला रही है। 
कीवर्ड panjab, DBEE, RIE,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक