समय पूर्व तैयार होगा गंगा ऊर्जा का पहला चरण!

एजेंसियां | नई दिल्ली Apr 13, 2018 09:44 PM IST

सार्वजनिक क्षेत्र की गैस कंपनी गेल इंडिया लिमिटेड ने आज कहा कि उत्तर प्रदेश के जगदीशपुर से पश्चिम बंगाल और ओडिशा को जोडऩे वाली 2,655 किमी गैस पाइपलाइन का पहला चरण दिसंबर 2018 की तय समयसीमा से पहले पूरा हो जाएगा।  कंपनी ने कहा कि उसने झारखंड के बोकारो से ओडिशा के अंगुल के बीच 530 किमी लंबी पाइपलाइन बिछाने का 780 करोड़ रुपये का ठेका दे दिया है। इसके साथ ही परियोजना के सभी बड़े ठेके दिए जा चुके हैं। परियोजना के 2,200 किमी हिस्से में पाइप की आपूर्ति और उन्हें बिछाने के कारण को अंतिम रूप दिया जा चुका है। 
 
जगदीशपुर-हल्दिया और बोकारो-धर्मा नैचुरल गैस पाइपलाइन परियोजना को प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा परियोजना के नाम से भी जाना जाता है। 2,655 किमी लंबी इस प्रतिष्ठिïत परियोजना का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जुलाई 2015 में किया था। गेल ने कहा कि परियोजना का काम जोरशोर से चल रहा है और इसका पहला चरण दिसंबर 2018 की तय समयसीमा से पहले पूरा हो जाएगा। यह पाइपलाइन उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल और ओडिशा से गुजरेगी और गेल अब तक इसके लिए 7,400 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा कर चुका है। वाराणसी, भुवनेश्वर और कटक में पाइप बिछाने की प्रक्रिया पहले ही शुरू हो चुकी है। पटना, रांची और जमशेदपुर में भी अगले महीने से इस परियोजना से संबंधित गतिविधियां शुरू हो जाएंगी। 
 
गेल के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक बी सी त्रिपाठी ने कहा कि परियोजना का कामकाज योजना के मुताबिक चल रहा है और प्रमुख ठेके दिए जा चुके हैं। उन्होंने कहा, 'परियोजना के पहले चरण में उत्तर प्रदेश के फूलपुर से बिहार में डोभी, पटना और बरौनी तक पाइपलाइन बिछाने का काम दिसंबर, 2018 में पूरा होना है और हमें विश्वास है कि यह समय से पहले पूरा हो जाएगा।'
कीवर्ड GAIL, power,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक