मध्य प्रदेश में इंदौर सेज से निर्यात में आई 13 प्रतिशत की कमी

भाषा | इंदौर Apr 17, 2018 09:58 PM IST

वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान मध्य प्रदेश के इंदौर स्थित विशेष आर्थिक क्षेत्र (सेज) से कुल निर्यात करीब 13 प्रतिशत की गिरावट के साथ 7,338 करोड़ रुपये रह गया। इस बहुउत्पादीय सेज से पिछले वित्त वर्ष 2016-17 में 8,428 करोड़ रुपये का निर्यात किया गया था।  इंदौर सेज के एक आला अधिकारी ने आज बताया, 'पिछले वित्त वर्ष में विदेशी बाजार में कुछ दवाइयों के पेटेंट संबंधी नियामकीय बदलावों के कारण सेज की एक बड़ी दवा इकाई के उत्पादों का निर्यात घट गया। इसका सेज के कुल निर्यात पर भी स्वाभाविक असर पड़ा।'
 
वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के अधिकारी ने बताया कि 31 मार्च को समाप्त वित्त वर्ष में सेज का मशीनरी, कच्चे माल और अन्य सामान का कुल आयात करीब 32 प्रतिशत बढ़कर 2,568 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। इससे पहले 2016-17 में सेज का कुल आयात 1,942 करोड़ रुपये के स्तर पर था। यह सेज हालांकि पड़ोसी धार जिले की औद्योगिक नगरी पीथमपुर में स्थित है, लेकिन 1,100 हेक्टेयर से ज्यादा क्षेत्रफल में फैली इस जगह को आधिकारिक तौर पर इंदौर सेज के नाम से जाना जाता है। 
 
अधिकारी ने बताया कि फिलहाल इस सेज में फार्मा, पैकेजिंग सामग्री, इंजीनियरिंग, वस्त्र निर्माण और खाद्य प्रसंस्करण समेत अलग-अलग क्षेत्रों की 42 इकाइयां चल रही हैं, जबकि 15 अन्य संयंत्रों का निर्माण कार्य अलग-अलग स्तरों पर जारी है। सेज 19,000 से ज्यादा लोगों को रोजगार दे रहा है।  
कीवर्ड madhya pradesh, bhopal, SEZ,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक