छोटे शहरों में भी होंगे स्टार्टअप

बीएस संवाददाता | पटना Apr 20, 2018 10:18 PM IST

बिहार सरकार ने छोटे-छोटे शहरों में स्टार्टअप को बढ़ावा देने का फैसला लिया है। इसके लिए उसने प्रमंडल के स्तर पर उद्यमिता विकास सेल स्थापित करने का फैसला लिया है। वहीं, राज्य सरकार ने स्टार्टअप की दिक्कतों का हल निकालने के लिए एक समाधान समिति बनाने का भी फैसला लिया है। 

राज्य में अब तक 53 स्टार्टअपकी शुरुआत हो चुकी है। राज्य के उद्योग मंत्री जय कुमार सिंह के मुताबिक अब सरकार छोटे शहरों के स्टार्टअप को बढ़ावा देना चाहती है। उन्होंने पटना में एक विभागीय कार्यक्रम में कहा, 'हम अब प्रमंडलीय स्तर पर उद्यमिता विकास सेल बनाने पर विचार कर रहे हैं। इसे आगे हम जिला स्तर पर भी लेकर जाएंगे। इसमें स्टार्टअप के लिए काम करने की जगह की व्यवस्था की है। साथ ही, वहां बैठक करने की जगह होगी और उद्यमियों को कारोबार के गुर भी सिखाए जाएंगे। इसके लिए सारा खर्च राज्य सरकार खुद उठाएगी। स्टार्टअप को बस यहां आकर काम करना होगा। इससे हर राज्य के दूसरे शहरों में भी स्टार्टअप का फैलाव हो पाएगा। इससे लगेगा कि सरकार उद्यमिता विकास के लिए भी कुछ कर रही है। युवाओं में स्टार्ट अप को लेकर नया जोश पैदा होगा।'

साथ ही, राज्य सरकार ने स्टार्टअप के लिए एक समाधान समिति बनाने का फैसला लिया है। यह स्टार्टअप की दिक्कतों का हल निकालेगी। इस समिति की बैठक हर 15 दिनों पर होगी। मंत्री ने बताया, 'अगर किसी स्टार्ट अप को कोई दिक्कत होती है, तो वह इस समाधान समिति में जा सकता है। साथ ही, अगर किसी स्टार्ट-अप का चयन राज्य सरकार के स्टार्ट अप बिहार कार्यक्रम में नहीं हो पाता है, तो वह भी इस बाबत गुहार लगा सकता है।' वहीं, राज्य सरकार ने अब प्रत्येक स्टार्टअप के लिए एक 'मेंटर' की व्यवस्था करने का फैसला लिया है। सिंह के मुताबिक ये स्टार्टअप को गाइड करेंगे और उनकी समस्याओं का समाधान करेंगे।
कीवर्ड बिहार, सरकार, स्टार्टअप,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक