एनएमडीसी स्लरी पाइपलाइन के लिए तलाश रही साझेदार

बीएस संवाददाता | जगदलपुर Apr 23, 2018 09:41 PM IST

लौह-अयस्क उत्खनन के क्षेत्र में भारत की प्रमुख कंपनी एनएमडीसी स्लरी की पाइपलाइन से परिवहन की परियोजना के विस्तार देने के लिए साझेदार तलाश रही है। कंपनी जल्द ही अभिरुचि पत्र आमंत्रित करेगी। एनएमडीसी बस्तर में बचेली से लेकर नगरनार के बीच 138 किलोमीटर लंबी स्लरी पाइपलाइन बिछाने की योजना पर काम कर रही है।  इस परियोजना के अंतर्गत भविष्य में किरंदुल को बचेली से जोडऩे और नगरनार को विशाखापत्तनम से जोड़े जाने की योजना है। बचेली से नगरनार के बीच पाइपलाइन परियोजना के लिए खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में 9 मई 2016 को दंतेवाड़ा में राज्य सरकार के साथ समझौते पत्र पर हस्ताक्षर किए गए थे।
 
एनएमडीसी के सूत्रों के मुताबिक इस दिशा में काम काफी आगे बढ़ चुका है। पाइपलाइन बिछाने का काम इसी साल शुरू हो जाएगा। इस दिशा में एक कदम और आगे बढ़ाते हुए एनएमडीसी ने जल्द ही अभिरुचित पत्र जारी कर नगरनार-विशाखापत्तनम और जगदलपुर से रायपुर के बीच स्लरी पाइपलाइन बिछाने के लिए साझेदार की तलाश शुरू कर रही है। एनएमडीसी विशाखापत्तनम और रायपुर राजमार्ग के बीच संयंत्र लगाने की इच्छुक कंपनियों को स्लरी उपलब्ध करवएगा। एनएमडीसी पेलेट संयंत्र  लगाने की इच्छुक कंपनियों को परियोजना में हिस्सेदारी भी दे सकती है।  एनएमडीसी स्लरी पाइपलाइन परियोजना के अंतर्गत नगरनार से एक किलोमीटर की दूरी पर स्थित कस्तूरी गांव में पेलेट संयंत्र लगाने की दिशा में काम कर रहा है। 20 लाख टन सालाना उत्पादन क्षमता वाले इस स्टील प्लांट की स्थापना 3 साल के भीतर पूरी हो जाएगी।
कीवर्ड NMDC, steel, iron ore,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक