'ग्रामीण बाजार पर दें ध्यान'

बीएस संवाददाता | लुधियाना Apr 24, 2018 09:37 PM IST

हीरो मोटर कंपनी के चेयरमैन पंकज एम मुंजाल ने अर्थव्यवस्था में तेजी लाने के लिए ग्रामीण बाजारों पर ध्यान देने की जरूरत बताई है। युनाइटेड साइकिल ऐंड पाट्र्स मेन्युफैक्चरर्स ऑफ इंडिया (यूपीसीएमए) के सदस्यों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि साइकिलों की बिक्री में सतत बढ़ोतरी के लिए ग्रामीण बाजार पर नजर रखने की आवश्यकता है।  शोध संस्था टेक्रावियो के मुताबिक दुनिया के साइकिल का बाजार 2022 तक 4 फीसदी की सालाना चक्रवृद्घि दर से बढऩे का अनुमान है। भारत में पिछले वित्त वर्ष में 1.65 करोड़ साइकिलें बनाई गईं। दुनिया में सर्वाधिक साइकिल बनाने के मामले में भारत चीन के बाद दूसरे स्थान पर है। देश में साइकिल बनाने वाली कंपनियों में 90 फीसदी लुधियाना की हैं। चीन में 95 फीसदी परिवारों के पास साइकिल है जबकि भारत में यह संख्या केवल 46 फीसदी है। मुंजाल ने कहा, 'स्थानीय इलाकों में संपर्क ढांचे की बाधाओं के कारण अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ता है। इस समस्या को दूर करने के लिए साइकिल सबसे सस्ता साधन है। यह सस्ती है, इसमें मरम्मत का खर्च बहुत कम है।' 
 
युगांडा जैसे देशों में किए गए अध्ययनों से पता चला है कि साइकिल के इस्तेमाल से ग्रामीण अर्थव्यवस्था में 33 फीसदी तक का इजाफा हुआ है। भारत में ग्रामीण इलाकों में अर्थव्यवस्था 2000 के बाद 6.2 फीसदी की वार्षिक चक्रवृद्घि दर से बढ़ी है। इतना ही नहीं वहां उपभोक्ताओं की आकांक्षाएं भी लगातार बढ़ रही हैं।  इस मौके पर मारुति उद्योग लिमिटेड के पूर्व प्रबंध निदेशक जगदीश खट्टर ने कहा कि सबसे निचले तबके की यह अनोखी खूबी होती है कि उसे कम निवेश और उच्च मात्रा वाले उत्पाद पेश किए जा सकते हैं।
कीवर्ड hero motocorp, pankaj m munjal,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक