मार्च-अप्रैल तक बिहार में बनेगा कृषि फीडर

बीएस संवाददाता | पटना May 04, 2018 09:45 PM IST

गांव-गांव तक बिजली पहुंचाने के बाद बिहार सरकार ने जल्दी ही कृषि क्षेत्र के लिए अलग फीडर तैयार करने का निर्णय लिया है। इस पर राज्य सरकार करीब 6,000 करोड़ रुपये निवेश करेगी। इसके लिए बिहार सरकार बिजली के अपने बुनियादी ढांचे को भी दुरुस्त करेगी।  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के मुताबिक राज्य में बिजली के क्षेत्र में कार्य तेजी से हो रहा है। ऊर्जा विभाग के एक  कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा, 'हम राज्य में बिजली के क्षेत्र में सुधार की हर मुमकिन कोशिश कर रहे हैं। इसे हमने इसे अपने '7 निश्चय' में भी शामिल किया है। इसके तहत हमने हर घर तक बिजली पहुंचाने का वादा किया है। हमें बेहद खुशी है कि इस साल के आखिर तक हमारा यह निश्चय पूरा हो जाएगा। राज्य में चालू वित्त वर्ष की शुरुआत में करीब 26 लाख घर बिजली से महरूम थे। इसमें से हमने 8 लाख से ज्यादा घरों को बिजली से जोड़ दिया है।'
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले महीने तक 14 लाख परिवारों तक बिजली पहुंचा दी जाएगी। राज्य सरकार ने चालू वित्त ïवर्ष के अंत तक राज्य में खेती के लिए अलग फीडर तैयार करने का लक्ष्य रखा है।  राज्य में उप-मुख्यमंत्री सुशील  कुमार मोदी ने कहा, 'मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में पिछले 12 साल में बिहार में बिजली क्षेत्र में काफी सुधार  हुआ है। आज हमारी सरकार राज्य के हर हिस्से तक बिजली पहुंचाने में कामयाब रही है। अब हम घर-घर तक बिजली पहुंचाने में जुटे हुए हैं। साथ ही, हम कृषि के लिए अलग फीडर तैयार कर रहे हैं। इससे खेती के लिए डीजल पर निर्भरता खत्म होगी और लोग बिजली से ही खेती करने लगेंगे।'
कीवर्ड power, electric, bihar,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक