राज्स में पीपीपी के तहत बनेंगी आवासीय परियोजनाएं

बीएस संवाददाता | लखनऊ May 08, 2018 09:35 PM IST

उत्तर प्रदेश में सरकारी आवासीय संस्थाओं की परियोजनाएं निजी सार्वजनिक सहभागिता (पीपीपी) के तहत पूरी की जाएंगी। राजधानी लखनऊ में कनॉट प्लेस की तर्ज पर बनने वाले शान-ए-अवध बाजार परियोजना को मुंबई की निजी डेवलपर फीनिक्स मिल्स को सौंपने के बाद कुछ और बड़ी परियोजनाएं निजी क्षेत्र के हवाले की जा सकती हैं।  लखनऊ विकास प्राधिकरण का कहना है कि  आगे से बड़ी आवासीय परियोजनाएं निजी क्षेत्र के सहयोग से बनाई जाएंगी। आवास विभाग के अधिकारियों का कहना है कि लखनऊ के अलावा गाजियाबाद व कानपुर विकास प्राधिकरण से आवासीय परियोजनाएं पीपीपी मॉडल के तहत पूरी करने को कहा गया है। लखनऊ विकास प्राधिकरण बोर्ड का कहना है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर के शापिंग मॉल व कानपुर रोड योजना में प्रस्तावित स्पोटïï्र्स कॉम्प्लेक्स जैसी परियोजनाएं निजी क्षेत्र को सौंपी जाएंगी। इसके अलावा कानपुर रोड योजना में प्राधिकरण की ओर से प्रस्तावित बजट होटल के निर्माण का काम भी निजी क्षेत्र की मदद से पूरा होगा। 
 
बोर्ड में लाए गए प्रस्ताव में कहा गया है कि हाल में राजधानी में हुए निवेशक सम्मेलन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी निजी सहभागिता के जरिये ज्यादा से ज्यादा काम कराने के निर्देश दे चुके हैं।  अधिकारियों का कहना है कि लखनऊ विकास प्राधिकरण बोर्ड के प्रस्ताव के मुताबिक राजधानी में हरदोई रोड की वसंत कुंज व मोहन रोड पर प्रस्तावित आवासीय परियोजना को निजी हाथों में सौंपने से इसकी शुरुआत हो सकती है।
कीवर्ड uttar pradesh, PPP, projects,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक