फर्जी ट्रैवल एजेंटों पर कसेगी नकेल

बीएस संवाददाता | जालंधर May 18, 2018 09:40 PM IST

पंजाब सरकार ने अवैध ट्रैवल एजेंटों पर नकेल कसने की कवायद शुरू की है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने प्रशासन को गैर-पंजीकृत ट्रैवल एजेंटों की पहचान करने और उनके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री के आदेश पर गृह सचिव एन एस कलसी ने राज्य के सभी शीर्ष नागरिक एवं पुलिस प्रशासन को अवैध ट्रैवल एजेंटों की पहचान करने के सभी उपाय करने के लिए कहा है।  इन उपायों के तहत साल में एक बार सभी लाइसेंस प्राप्त/पंजीकृत टैवल एजेंटों के नामों की सूची अद्यतन करने के लिए कहा गया है। ऐसी खबरें हैं ये ट्रैवल एजेंट लोगों, खासकर युवाओं को विदेश भेजने के लिए मोटी रकम ले रहे हैं। राज्य सरकार को ऐसी शिकायतें मिली हैं कि ये अवैध ट्रैवल एजेंट लोगों के साथ फर्जीवाड़ा कर रहे हैं। लोगों को अपहृत करने और उन्हें अवैध रूप से रखने के मामले भी सामने आए हैं। 
 
पंजीयन और ट्रैवल एजेंटों के  काम-काज के लिए निर्धारिक मानकों के कड़ाई से पालन के लिए सख्त उपाय किए जा रहे हैं। इसके तहत यह तय हुआ है कि सभी पंजीकृत टै्रवल एजेंट लोगों को दी गई सेवा के लिए प्राप्ति रसीद देंगे। रसीद में अन्य बातों के अलावा रसीद संख्या, रकम, भुगतान का माध्यम, पंजीकृत परिसरों का नाम एवं पता और जीएसटी क्रमांक का जिक्र करना होगा। इसके साथ ही सभी उपायुक्तों को जिले के वेब पोर्टल में सभी पंजीकृत ट्रैवल एजेंटों के संबंध में जानकारी सुनिश्चित करने के लिए कहा है।  
 
प्रधानमंत्री संपदा योजना से बढ़ेगा निवेश
 
खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में निवेश बढ़ाने, किसानों की आय दोगुनी करने और राज्य में रोजगार की अपार संभावनाएं सृजित करने के लिए केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना की शुरुआत की है। इस बारे में सरकार के एक प्रवक्ता ने कहा कि इस योजना से आधुनिक अधोसंरचना बनाने में मदद मिलेगी, जिससे खेत से रिटेल स्टोर तक कृषि उत्पाद आसानी से पहुंच जाएंगे। 
कीवर्ड panjab, मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक