सूरज की रोशनी से चमकेंगे पर्यटन विभाग के होटल

बीएस संवाददाता | लखनऊ May 20, 2018 09:37 PM IST

उत्तर प्रदेश सरकार अब पर्यटन विभाग के होटल सौर ऊर्जा से रोशन करेगी। राज्य सरकार अपनी नई पर्यटन नीति के तहत स्थापित होने वाले हेरिटेज होटलों के साथ ही विभाग के वर्तमान होटलों व मोटलों में रूफ टॉप सौर ऊर्जा संयत्रों को बढ़ावा देगी। उत्तर प्रदेश के वाराणसी शहर में सभी सरकारी विभागों के भवनों में भी रूफ टॉप सौर ऊर्जा संयंत्र लगाए जाने की तैयारी हो रही है। वाराणसी में इसकेलिए एक निजी संस्था सरकारी भवनों का निरीक्षण कर कार्य योजना तैयार कर रही है। उत्तर प्रदेश सरकार ने पर्यटन नीति-2018 के तहत स्थापित होने वाले हेरिटेज होटल की छतों पर नेट मीटरिंग प्रणाली पर लगने वाले ग्रिड संयोजित रूफ टॉप सोलर पावर प्लांट प्रोत्साहित करने का निर्णय लिया है। अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत विभाग के प्रमुख सचिव आलोक कुमार ने इस संबंध में आवश्यक आदेश जारी किया है। 
 
उन्होंने बताया कि हैरिटेज होटल की छतों पर ग्रिड संयोजित रूफ टॉप सोलर पावर प्लांट उत्तर प्रदेश विद्युत नियामक आयोग द्वारा समय-समय पर सूचित किए गए दिशानिर्देश के अधीन अधीन स्थापित किए जा सकेंगे। उन्होंने बताया कि 10 किलोवॉट क्षमता तक ग्रिड संयोजित सोलर पावर प्लांट राज्य विद्युत निरीक्षक के निरीक्षण से मुक्त रखे गए हैं।  उन्होंने बताया कि यह व्यवस्था राज्य की सौर ऊर्जा नीति-2017 के अंतर्गत प्रोत्साहन उपलब्ध कराने के लिए शुरू लिए की गई है। योगी सरकार की नई पर्यटन नीति के तहत प्रदेश के विभिन्न शहरों व गांवों में पुरानी हवेलियों, भवनों, किलों व महलों को हेरिटेज होटल में तबदील करने के लिए कई तरह की सहूलियतें दी जा रही हैं। इसके साथ ही वाराणसी जिला प्रशासन के शहर के सभी सरकारी विभागों को सौर ऊर्जा से लैस किए जाने के लिए कार्य योजना बनाई है। इसके तहत वाराणसी के सभी सरकारी भवनों में सौर ऊर्जा संयंत्र की स्थापना के लिए संभावनाएं तलाशी जा रही हैं। 
कीवर्ड uttar pradesh, tourism,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक