उत्तर प्रदेश में उबला आलू, आवक में कमी से उछले दाम

बीएस संवाददाता | लखनऊ May 27, 2018 10:39 PM IST

उत्तर प्रदेश में महज दो महीने पहले तक कौड़ी के भाव बिक रहे आलू ने अब उपभोक्ताओं का दम निकालना शुरू कर दिया है। प्रदेश के ज्यादातर शहरों की खुदरा मंडियों में आलू 25 से 30 रुपये किलोग्राम बिक रहा है। थोक व्यापारियों का मानना है कि आवक में लगातार आ रही कमी के मद्देनजर बरसात में इसकी कीमतें उछलनी लगभग तय है। 

पहले गिरती कीमतों से चिंतित प्रदेश की योगी सरकार ने सरकारी समर्थन मूल्य तय करने से लेकर निर्यात सब्सिडी और भंडारण से लेकर तमाम उपाय कर किसानों को राहत पहुंचाने की कोशिश की। अब राज्य सरकार आलू के बढ़ते दाम को लेकर चिंता में नजर आ रही है। योगी सरकार ने भंडारण से लेकर निकासी आदि पर कुछ प्रतिबंध लगाने के साथ ही थोक व खुदरा बाजारों में मूल्य में अंतर को पाटने की कवायद शुरू की है।

उद्यान विभाग का मानना है कि दाम तेज होने और दूसरे राज्यों में आलू भेजने पर मिलने वाली सब्सिडी के साथ ही भंडारण के लिए अधिक अवसर होने के कारण आलू की कीमतें उछल रही हैं। आलू किसानों की बदहाली देखते हुए प्रदेश सरकार ने इसके लिए एक समिति गठित की थी। समिति ने आलू का न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित करने से लेकर इसके 2 लाख टन के सरकारी खरीद, भंडारण की अतिरिक्त सुविधा उपलब्ध कराने व पड़ोसी राज्यों में आलू भेजने पर भाड़े में सब्सिडी देने जैसे कई कदम उठाए थे। प्रदेश सरकार के इन प्रयासों से आलू के दाम में तेजी आना शुरू हुई। 

 
कीवर्ड उत्तर प्रदेश, आलू, योगी सरकार,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक