भाजपा को अब दोस्त की जरूरत नहीं: उद्घव ठाकरे

सुशील मिश्र | मुंबई May 31, 2018 09:58 PM IST

देश की चार लोकसभा और 10 विधानसभा सीटों के चुनाव परिणाम भले ही भाजपा के हक में न रहे हो लेकिन महाराष्ट्र की पालघर लोकसभा सीट पर भाजपा अपनी सहयोगी शिवसेना को शिकस्त देने में कामयाब रही है। पालघर सीट हारने के बाद शिवसेना ने चुनाव आयोग पर गड़बड़ी करने का आरोप लगाया है। साथ ही यह कहते हुए अलग राह चलने की भी बात कर दी है कि भाजपा को अब दोस्त की जरूरत नहीं है।  शिवसेना प्रमुख ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं को मतदान के एक दिन पहले पैसे बांटते हुए देखा गया, ईवीएम खराब हुई, उसकी शिकायत भी की गई। मुख्यमंत्री खुलेआम साम, दाम, दंड, भेद की बात करते हैं। इसके बावजूद चुनाव आयोग शिकायत दर्ज नहीं करता। चुनाव आयोग एक दल के पक्ष में काम कर रहा है जो लोकतंत्र के लिए बड़ा खतरा है। 
 
दूसरी जगहों पर दोबारा मतदान हुआ लेकिन पालघर में शिकायत के बाद भी दोबारा मतदान नहीं कराया गया। ठाकरे ने कहा कि भाजपा को अब दोस्त की जरूरत नहींं है। 2004 में जब भाजपा की सरकार आई थी तो लोगों को लगा था कि यह सरकार 25 साल तक चलेगी लेकिन अब ऐसा नहीं लग रहा है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए ठाकरे ने कहा कि वह अपने यहां की सीट हार रहे हैं और यहां आकर शिवाजी महाराज का अपमान करके वोट मांगते हैं।  
कीवर्ड byelection, BJP, congress, BSP, SP, mumbai, shivsena,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक