बिहार-झारखंड में 2021 तक मिलेगी सीएनजी

सत्यव्रत मिश्रा | पटना Jun 10, 2018 09:46 PM IST

बिहार और झारखंड के दर्जन भर शहरों में अगले 2 से 3 वर्षों में पाइपलाइन गैस की आपूर्ति का पूरा तंत्र तैयार हो जाएगा। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस नियामक बोर्ड (पीएनजीआरबी) के अनुसार 2021 तक इन दोनों राज्यों की बड़ी आबादी तक सीएनजी और पीएनजी पहुंचने लगेगी।  बोर्ड ने शहरी गैस वितरण के नौवें दौर के लिए बोलियां आमंत्रित की हैं। इस दौर में देश के 174 जिलों  में सीएनजी और पाइप के जरिये रसोई गैस की आपूर्ति के लिए कंपनियों का चयन निविदाओं के आधार पर किया जाएगा। पीएनजीआरबी के अध्यक्ष डी के सराफ  ने बताया,'सिटी गैस वितरण के लिए नौवें दौर की बोलियां अपने आप में एक रिकॉर्ड है। इससे पहले इतने बड़े स्तर पर प्राकृतिक गैस के आपूर्तिकर्ताओं का चयन नहीं हुआ है। बोली की प्रक्रिया अगले महीने की 10 तारीख तक चलेगी। आपूर्तिकर्ताओं का चयन अक्टूबर में होगा। उम्मीद है कि 15 से 18 महीनों में सिटी गैस की आपूर्ति शुरू हो जाएगी।' उन्होंने कहा कि यह गैस पारंपरिक ईंधनों के मुकाबले काफी सस्ती होगी और इससे पर्यावरण में प्रदूषण भी कम होगा। 
 
इस दौर की बोली में बिहार के सासाराम, औरंगाबाद, गया, बिहारशरीफ  और बेगूसराय शहरों को शामिल किया गया है। झारखंड में बोकारो, हजारीबाग, रामगढ़ और धनबाद शहरों के लिए भी आपूर्तिकर्ता का चयन इसी बोली के जरिये होगा। इसके अलावा गेल इंडिया बिहार में पटना और झारखंड में रांची और जमशेदपुर में खुद सिटी गैस की आपूर्ति करेगी। कंपनी के मुताबिक पटना में अक्टूबर से सीएनजी और पाइप से रसोई गैस की आपूर्ति शुरू हो जाएगी। रांची और जमशेदपुर में भी दिसंबर तक कंपनी आपूर्ति शुरू कर देगी। इससे बिहार के 22 फीसदी और झारखंड की 46 फीसदी आबादी तक प्राकृतिक गैस की आपूर्ति होगी। 
कीवर्ड bihar, jharkhand, gas, CNG,

  
X

शेयर बॉक्स

पर्मलिंक